जब तहसीलदार ने खेत में पंहुच चलाया हल ,तो किसान खुद पंहुचे वेक्सिनेशन सेंटर

Scn news india

अलकेश साहू 

कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु मध्यप्रदेश शासन ने जहाँ वेक्सिनेशन हेतु वृहद जागरूकता अभियान जे साथ महा टीकाकरण  अभियान चलाया है। तो वही प्रशासनिक अधिकारियों ने भी अभियान को सार्थक बनाने कंधे दे कन्धा मिला तन मन और श्रम के साथ जुट गए। जिसका सकारात्मक परिणाम रहा की 21 जून को 10 लाख के टारगेट को भेदते हुए ये आंकड़ा 16 लाख तक जा पंहुचा। और ये संभव ही पाया सरकार की प्रबल ईच्छाशक्ति से और प्रशासन की कुशल कार्यपरायणता से। सबसे ज्यादा परेशानी दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्रो में थी जहाँ ग्रामीण दुविधावश वेक्सीन से परहेज कर रहे थे लेकिन एक तस्वीर ने सारा परिदृश्य ही बदल दिया। ग्रामीण स्वयं वेक्सिनेशन हेतु सेंटर पर पंहुचने लगे।

 

बता दे की आदिवासी बाहुल्य तहसील चिचोली के दूरस्थ  क्षेत्रों में वैक्सीनेशन कार्यक्रम को सफल बनाने की कमान खुद चिचोली तहसीलदार  ओमप्रकाश चोरमा ने सम्हाली थी जहाँ एक और राजनैतिक दलों, सामाजिक कार्यकर्ता , धर्मगुरुओं ने  प्रेरक बन लोगो को मोटिवेट कर वेक्सीन सेंटर पर लाया तो वहीँ  तहसीलदार  ओमप्रकाश चोरमा खेतों के कार्य करा रहे किसानों के बीच  पंहुच गए। और उनके कामों में ना केवल हाथ बताया बल्कि खेतों में हल तक चलाये। उन्होंने एक किसान के खेत में बुआई उपरांत पठेला चलाकर प्रेरित करने का प्रयास किया ताकि किसान के दिल से तहसीलदार से आत्मीयता बनें और वह वैक्सीनेशन करवाए।

जिसके बाद परिणाम सुखद रहे और ग्रामीण स्वयं चल कर वेक्सिनेशन हेतु सेंटर पर पंहुचने लगे। वहीँ तहसीलदार  ओमप्रकाश चोरमा की ये तस्वीर वायरल हो गई। जिसने भी देखा  वो बस देखता ही रह गया।

बता दे कि श्री चोरमा बहुप्रतिभाशाली  व्यक्तित्व के धनी है। जिन्होंने समय समय पर अवसर अनुरूप कई प्रेरणादायी  लेख ,गीत और कविताएं लिखी है।

तहसीलदार ओमप्रकाश चोरमा द्वारा रचित   प्रेरणादायी  कविता – सबसे पहले वैक्सीन लगवाना

सबसे पहले वैक्सीन लगवाना
********
वैक्सीनेशन हो तब ही कहीं जाना
सबसे पहले वैक्सीन लगवाना।

अठारह से ऊपर के लोगों सुन लो
वैक्सीनेशन का अवसर चुन लो।
मिला मौका व्यर्थ ना गंवाना
सबसे पहले वैक्सीन लगवाना।

कृषक, मजदूर, विद्यार्थी या व्यापारी
हर पेशेवर, सेवक निजी या सरकारी।
महिला-पुरुष सबको समझाना
सबसे पहले वैक्सीन लगवाना।

वैक्सीनेशन तो सुरक्षा चक्र के जैसा
फिर वैक्सीनेशन में भ्रम क्यों?,कैसा?
भ्रम त्याग कर आगे आना
सबसे पहले वैक्सीन लगवाना।

स्वयं को कोरोना से यदि है बचना
वैक्सीनेशन से भूलकर भी ना बचना
‘ओम’ घर-घर ये संदेश पहुंचाना
सबसे पहले वैक्सीन लगवाना।
***
-ओमप्रकाश चोरमा
तहसीलदार चिचोली