आधा अधूरे काम छोड़ मौके से ठेकेदार गायब

Scn news india

डिंडोरी गणेश प्रसाद शर्मा 

डिंडोरी जिले के बजाग विकास खंड अंतर्गत गाड़ासरई से शोभापुर प्रधान मंत्री ग्राम सड़क योजना से स्वीकृति पर बनने वाले महज 8किलोमीटर की सड़क को ठेकेदार एस के मंगलानी अधूरा छोड़ काम से गायब हो गया है।
करोङो की लागत से बनने वाली सड़क विभाग के अधिकारियों के मिली भगत से चंद रुपयों में समेट कर रह गई।
मिली जानकारी अनुसार सूचना के अधिकार के तहत मिली जानकारी से ज्ञात हुआ है कि सड़क गाड़ासरई से शोभापुर तक बननी थी जिसमे 5से6 पुल बननी थी दोनों ओर सोल्डर,जंहा जंहा कॉन्क्रीट सड़क बननी थी उसके दोनों ओर नाली,किलोमीटर पत्थर,ब्रेक,स्कूल एवं तमाम जगहों पर संकेत बोर्ड ये सब अधूरे छोड़ ठेकेदार फरार हो चुका।


विभाग के अधिकारी कुम्भ करण के नींद में डूबे हुए दिखाई दे रहे हैं
ग्रामीण, जनप्रतिनिधियों में आक्रोश व्याप्त दिखाई देता नजर आ रहा है।जनप्रतिनिधियों में विरोध के साथ साथ उग्र आंदोलन वा आगामी समय पर धरना प्रदर्शन करने का माहौल बना हुआ है।
ठेकेदार से संपर्क करने पर ठेकेदार के द्वारा संबंधित विभाग के अधिकारियों के ऊपर आरोप लगाना और अधिकारियों से बात करने पर ठेकेदार से संपर्क करने को कहा जाता है।
वंही लोगों का कहना है जैसे कि गाड़ासरई से शोभापुर मार्ग में कस्बे के अंदर भी 3 पुले बननी है अभी बारिश के समय मे देखा जाय तो पुल ना बनने से लाल चौक से अंदर कोई बड़ी घटना घटने का संका बना हुआ है नाले का पानी का जमावड़ा बना हुआ है लोगो को आने जाने में बहुत मुसीबत का सामना करना पड़ रहा है गाड़िया फसती है घंटो जाम लग रहा है।ऐसे में बात तो तब बनती है कि ऐसे समय मे इतना बड़ा अपराध ठेकेदार के द्वारा किया गया है वो भी विभाग के अधिकारियों के मिली भगत से।


ये बहुत बड़ी बिडंना है कि लोगों के विरोध करने के बाद भी ठेकेदार को ना विभाग को आंच आ रही है।
वंही ठेकेदार के रुतवे तो इतने सुनने में आता है कि यदि कोई अपनी बात को लेकर संपर्क करता है तो ठेकेदार के द्वारा भाजपा, कांग्रेस के नेताओ से मिलने वा अच्छे संबंध होने का परिचय देते हुए अपनी रौब दिखाने में कसर नही छोड़ता।इसी प्रकार अनेको बाते है जिनको अपनी ढाल बना कर ठेकेदार आदिवासी बहुल इलाकों डिंडोरी जिले के बजाग,करंजिया जैसे जगहों में शहडोल,बुढ़ार से आकर दादा गिरी के साथ काम कर रहा है और इसके विरुद्ध कोई कार्यवाही नही हो पा रही है।