7 गौ वंश आये ट्रैन की चपेट में

Scn news india

संवादाता सुनील यादव मुड़वारा कटनी

प्रदेश सरकार गौ संरक्षण के लिए भले ही लाख दावे कर रही है पर जमीनी हकीकत कितनी सही है आइए इसे दिखाते है रेल की पटरियों के बीच मे पड़ी ये गौ वंश है एक नही दो नही बल्कि 7 गौ वंश बीच पटरियों में पड़े है जो कि रात में ट्रैन की टक्कर लगने से मारे गए है

रेल पातो के बीच मे पड़े 7 गौ वँशो के शवों को लोगो ने देखा जिसकी जानकारी गौ रक्षा सेविका कमांडो को दी गई अपनी टीम के साथ पहुँची ओर घायल गौ वंश का इलाज किया
गौ सेविका अमिता श्रीवास ने बताया कि लोग सिर्फ गाय से जब तक दूध मिलता है तब तक उसका ध्यान रखते है उसके बाद गौ वँशो को सड़कों पर छोड़ देते है और उसका परिणाम ये होता है कि सड़कों के बीच मे गाय बैठी रहती है इस से सड़क हादसे भी होते रहते है जैसे आज रेल से टक्कर लगने के कारण गौ वंशो की जान चली
गई है वही शहर में बनी गौ शालाओं में एक भी गौ वंश नही है बल्कि उस गौ शालाओ में चारे ओर कंडा रखकर ताला लगा रहता है सारे के सारे गौ शालाये अभी तक खाली पड़ी हुई है