अब पानी में भी कोरोना का खतरा, साबरमती के पानी में संक्रमण

Scn news india

मनोहर

दुनिया भर में कोहराम मचाने वाले कोरोना वायरस के नए नए रूप सामने आ रहे है जहाँ दूसरी लहर से संक्रमण से निकले की आस दिख रही थी तो वहीँ चौकाने वाली जानकारी भी सामने आ रही है जो चिंता का विषय है।  बता दे कि गुजरात की लाइफलाइन कहे जाने वाली साबरमती नदी में कोरोना वायरस पाया गया है।  दरअसल यहां की पानी के सैंपल को जांच के लिए भेजा गया था, जहां साबरमती के पानी को भी संक्रमित पाया गया है।   गुजरात में साबरमती के अलावा, कांकरिया, चंदोल झील में भी कोरोना वायरस मिला है.साबरमती का पानी संक्रमित पाया गया है।

वहीं असम गुवाहाटी में बारू नदीं के सैंपल में कोरोना संक्रमण मिला है।  देश के 8 संस्थाओं ने इन सैंपलों की टेस्टिंग की और पाया कि इनमें विषाणुओं की संख्या काफी अधिक है। गौरतलब है  कि पिछले साल सीवेज से सैंपल लेकर जांच के दौरान कोरोना वायरस की मौजूदगी की पता चला था।  इसके बाद प्राकृतिक जल स्त्रोतों के बारे में भी पता लगाने के लिए दोबारा से अध्ययन को शुरू किया गया था।  IIT गांधीनगर के पृथ्वी और विज्ञान विभाग के प्रोफेसर मनीष कुमार के अनुसार  पानी के यह सैंपल नदी से 3 सितंबर से 29 दिसंबर 2020 तक हर सप्ताह लिए गए थे।  सैंपल लेने के बाद इसमें जांच की गई तो कोरोना वायरस के संक्रमित जीवाणु पाए गए।