मूसलाधार बारिश ने दी उमस भरी गर्मी से राहत , नालों की सफाई युद्ध स्तर करने की आवश्यकता

Scn news india

पीयुष डेनियल 

सारनी -तीन दिनों पूर्व बरसे बादलों के बाद लगातार दो दिनों तक तप्ती गर्मी और उमस ने लोगों का बेहाल कर दिया था। लेकिन शाम ढलते ढलते हुई तेज मूसलाधार बारिश ने बड़ी राहत दी है। हालांकि मौसम विभाग के अनुसार मध्यप्रदेश में मानसून 15 से 20 जून के बीच ही पंहुचेगा। लेकिन अभी ये उसके आने की दस्तक मिल गई है। मौसम विभाग ने इस वर्ष अच्छी बारिश होने की संभावना जताई है। लेकिन इसके साथ ही  स्थानीय प्रशासन को भी अलर्ट होना होगा। कारण प्रशासनिक लापरवाही की वजह से निचली बस्तियों में अक्सर जल भराव की स्थिति बनती है। वहीँ इस बार कोरोना लॉकडाउन की वजह से नालों की सफाई का काम भी बाधित हुआ है। जिसे युद्ध स्तर पर करना होगा नही तो स्थिति भयावह हो सकती है।