“जब जनप्रतिनिधियों ने नही ली सुध,तब बुंदेलखंड के नवयुवक ने बेसहारों की मदद के लिए बढ़ाये कदम,लोगों में उनके हक और जिम्मेदारियों की अलख जगाने का सराहनीय प्रयास”

Scn news india

रविकांत बिदोल्या

हटा(दमोह)

हटा/- बुंदेलखंड वैसे तो देश प्रदेश में कई प्रतिभाओं के लिए जाना जाता है , पर दूसरी बड़ी चीज हैं यहाँ के लोगों की व्यवहारिकता और समाज सेवा की भावना ।। कोरोनाकाल मैं सभी ने लोगों की मदद के लिए अपने कदम बढ़ाएं और सामाजिकता मिसाल पेश की ,उसी बीच बुंदेलखंड उपकाशी हटा में छोटी सी उम्र से सामाजिक संस्था चला रहे । नवयुवक आकाश पौराणिक भी सामने आए व लोगों की भोजन ऑक्सीजन से संबंधित सेवाओं में अपना सहयोग दिया ।

इसी कड़ी में आज आकाश पौराणिक द्वारा ग्राम चौराइया निवासी विकलांग परिवार को लंबे समय की मेहनत के बाद रकम इकट्ठा कर चालीस हजार कीमत की एक ट्राई सायकिल भेंट की गई , जानकारी अनुसार ग्राम पंचायत मड़ियादो के ग्राम कलकुआँ टपरियन निवासी एक बंजारा परिवार के 4 सदस्यों में से तीनो बच्चे विकलांग है जिनका भरण पोषण पिता के गुजर जाने के बाद से माँ जसिया बंजारा अकेले मेहनत मजदूरी करके तीनों विकलांगों को पालती है,बड़ा लड़का पूरन बंजारा उसका छोटा भाई खेमी बंजारा एवं बहन खीमा बंजारा शासन से बार-बार मदद मांगी लेकिन 7 साल से शासन उस विकलांग परिवार को कोई सरकारी सुविधा नहीं दे पर अब तक सरपंच सचिव की मेहरबानी से न तो सरकार उनको कुटीर,शौचालय और न ही तीनो में से किसी भी विकलांग सदस्य को ट्रायसाइकिल मुहैया करा पाई है ।

आकाश पौराणिकगंभीर मुद्दों को लेकर फेसबुक पर “स्वतंत्रत संवाद” नामक लाइव शेसन चला कर खबर के स्थान से संबंधित लोंगो को उस समस्या से निपटने और उसके खिलाफ आवाज उठाने का प्रयास करते है ,इनकी भाषा शैली से प्रभावित होकर ,लोंगो द्वारा इनके इस लाइव शेसन को बहुत पसंद किया जाता है व कई गंभीर मुद्दों के खिलाफ लोगो ने युवा की आवाज पर आगे आकर उसके खिलाफ आवाज उठाई, यूथ इनके इन प्रयासों से प्रभावित होकर इन्हें अपना आइकॉन भी मानती है ।