कैनरा बैंक धोखाधड़ी मामला – प्रबंधक को पद विमुक्त कर अभियुक्त बनाने आम आदमी पार्टी ने रखी माँग

Scn news india

मनोहर

सिवनी/ करोड़ो रूपये के चैक के माध्यम से आहरण कर धोखाधड़ी के विगत दिनों कैनरा बैंक घोटाले के मामले में सिवनी कोतवाली पुलिस विवेचना कर रही है जिसमे 7 अभियुक्तों को जेल भेजा जाने की खबर है वही एक अभियुक्त सलीम खान पिता पीरू खान उम्र 34 साल जिसके खाते में 22 लाख रुपये जेल भेजे गए अभियुक्त मोइन खान के कैनरा बैंक के खाता क्रमांक1413261001264 से दिनांक 19/04/2021 को ही चैक क्रमांक 0000818356 से 20 लाख, 21 अप्रैल को 150,000 व 22 अप्रैल को 50,000 इस प्रकार कुल 22 लाख अंतरण किये गए है ।
नगर में चल रही जनचर्चा व आमजन के निष्पक्ष जाँच की आश को आम आदमी पार्टी की ओर से संघान लेते हुए आप के पूर्व जिला अध्यक्ष बालाघाट सिवनी संसदीय प्रभारी अधिवक्ता जयदीप सिंह बैस ने पुलिस अधीक्षक सिवनी से बैंक प्रबंधक को पद से विमुक्त किये जाने की कार्यवाही के साथ अभियुक्त बनाये जाकर जाँच किये जाने की माँग की है आम आदमी पार्टी द्वारा ही सबसे पहले उक्त मामले को उजागर करते हुए उक्त मामले में पुलिस अधीक्षक व इनकमटैक्स विभाग से जाँच की माँग की थी।जिसके बाद पुलिस प्रशासन द्वारा बैंक प्रबंधक से पूछताछ कर शिकायत लेते हुए जाँच शुरू की । किंतु उक्त मामले में निष्पक्ष जाँच आगे बढ़ रही है ऐसा अब एक आरोपी सलीम पिता पीरू खान उम्र 34 साल को पुलिस द्वारा छोड़े जाने व उक्त मामले में पुलिस द्वारा जप्त 335000 की रकम सार्वजनिक नहीं किये जाने व बैंक प्रबंधक द्वारा पत्रकार को मामला उजागर नही किये जाने के एवज में 1 लाख की रिश्वत की पेश कश को जाँच में शामिल नही किये जाने पर प्रतीत हो रहा है।जबकि सलीम खान उक्त मामले में आज की तारीख में सह अभियुक्त है यदि सलीम खान अभियुक्त नहीं है तो माननीय न्यायालय इसका फैसला करेगा किंतु न्यायालय तक सलीम को पहुँचने के पहले छोड़ा जाना कहां तक उचित है । सलीम खान को किसके दबाब में पुलिस ने छोड़ा आमजन के हर एक जवान पर है।आप की ओर से जारी प्रेस विघ्प्ति में जिला मीडिया प्रभारी राजेश पटेल ने कही है।
राजेश पटेल ने बताया कि उक्त मामले में निष्पक्ष जाँच पर यदि कोई आशंकायेँ उत्पन्न होती है तो पार्टी विचार करेगी व आगे निर्णय लेगी चूँकि मामला बड़ा घोटाले का है इसलिए जाँच हेतु स्पेशल टास्क फोर्स जैसी जाँच एजेंसी से उक्त मामले की जाँच सौपी जानी चाहिए। उक्त मामले में विहार सरकार की जनता की राशि का बंदरबाट हो रहा है विगत बर्ष जो घटना कैनरा बैंक की रायपुर ब्रांच में 7 चैकों के माध्यम से करीब पौने चार करोड़ का प्रकाश में आया प्रकरण कायम हुआ व उसकी पुनः पुनरावृत्ति का होना व बिहार सरकार के सरकारी संस्थान बिहार स्टेट रोड डवलपमेंट कॉर्पोरेशन लिमिटेड
का इतने दिनों से चुप्पी का आम आदमी पार्टी बिहार राज्य के अध्यक्ष सुशील सिंह ने भी संघान में लिया है।