सरस्वती विद्या मंदिर में हुई अभिभावकों की वर्चुअल बैठक

Scn news india

पीयूष डेनियल 

सारनी:- विद्या भारती मध्यभारत प्रांत की योजना अनुसार सरस्वती विद्या मंदिर में ग्रीष्मकालीन व्यक्तित्त्व विकास महोत्सव के अन्तर्गत 1 से 3 जून तक अभिभावकों एवं पूर्व छात्रों की पृथक्-पृथक् वर्चुअल प्रबोधन बैठक सम्पन्न हुई, जिनमें अभिभावकों एवं पूर्व छात्रों ने बड़ी संख्या में सहभागिता की।
विद्यालय के प्राचार्य राजेन्द्र तिवारी अभिभावकों से उनकी और उनके परिजनों की कुशलक्षेम जानने के उपरांत राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के बारे में चर्चा की। प्राचार्य द्वारा नई शिक्षा नीति की प्रमुख विशेषताओं की जानकारी देते हुए बताया गया कि यह शिक्षा नीति भैया-बहिनों के लिए समग्र विकास में सहायक बनेगी। इसके अलावा आॅनलाइन शिक्षण की व्यवस्था पर भी विचार किया गया। बैठक में कोरोना महामारी के संक्रमण से बचने के लिए आवश्यक उपायों और सावधानियों का पालन करने का आग्रह भी किया।
पूर्व छात्रों की बैठक को संबोधित करते हुए विद्यालय की वरिष्ठ दीदी श्रीमती अनीता कोसे ने वर्तमान में कोरोना महामारी की भीषण विपदा में विद्या भारती परिवार विशेषकर पूर्व छात्रों द्वारा किए जा रहे सेवा कार्यों का उल्लेख किया। साथ ही, स्थानीय पूर्व छात्रों का भी आह्वान किया कि आप सब भी स्वयं को स्वस्थ व सुरक्षित रखते हुए छोटे-छोटे कार्यों से समाज की यथासंभव सेवा और सहायता करें। बैठक में पूर्व छात्रों ने भी अपने अनुभवों को साझा किया कि महामारी ने किस प्रकार उनकी दिनचर्या और सामान्य कार्य-व्यवहार को प्रभावित किया है। दोनों बैठकों के अंत में सुश्री सरिता तिवारी ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया।