SBI ATM के गार्ड ने ईमानदारी की मिसाल पेश की ATM में मिला मोबाईल उपभोक्ता को लौटाया

Scn news india

अलकेश साहू जिलाब्यूरो बैतूल 

झल्लार -अमूमन जहाँ आज सड़क पर सुई भी मिल जाए तो लोगों का ईमान डोल जाता है वहीँ यदाकदा बेईमानो में मुँह पर तमाचा जड़ने वाली ईमानदारी की मिसालें भी सामने आती है जो इंसानियत के  जिंदा होने का सबूत  दे जाती है। ऐसी ही ईमानदारी की सच्ची तस्वीर छोटे से गाँव झल्लार में देखने को मिली। जहाँ एटीएम से रुपये निकलने रितेश सिहारे ग्राम अंभोरी सुबह पंहुचा था और जल्दबाजी में अपना कीमती मोबाईल फोन एटीएम में ही भूल गया। जिस पर एटीएम में तैनात गार्ड शेख  रफीक की नजर पड़ गई। गार्ड ने मोबाईल फोन अपने कब्जे में ले कर शाखा प्रबंधक को इसकी सुचना दी चूँकि फोन में लॉक पैटर्न होने से HOME नम्बर पता करना मुश्किल था। लेकिन ग्रामीण युवा उपभोक्ता रितेश सिहारे की बुद्धिमानी काम आई जीने मोबाईल के कव्हर में पर्ची पर अपने घर का दूसरा  नम्बर लिख छोड़ा था।

गार्ड ने तुरंत ही युवक के नम्बर पर फोन लगा पहले ये पुख्ता जानकारी ली की मोबाइल का वही वास्तविक मालिक है।  जिसके उपरान्त उसे मोबाईल मिलने की सुचना दी। युवक तुरंत ही भागा भागा एटीएम पंहुचा। जहाँ अपना मोबाईल देख उसकी ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा। उसके लब गार्ड शेख  रफीक की धन्यवाद देते नहीं रुक रहे थे। युवक ने बताया की दो माह पहले ही 13000 /-में mi कंपनी का फोन ख़रीदा था। जब घर पंहुचने से पहले जेब में मोबाइल देखा तो होश उड़ गए  मोबाईल नहीं था। पागलो की तरह रास्ते भर ढूंढता रहा और मायूस हो गया। लेकिन जब उसे फोन आया तो भागा  भागा आया। मोबाईल देख कर जान में जान आई। युवक ने बैंक गार्ड के साथ ही SBI शाखा प्रबंधक को भी धन्यवाद दिया।