बैतूल में भी ब्लेक फंगस की दस्तक -क्या है लक्षण

Scn news india

अलकेश साहू 

बैतूल -बैतूल जिले में जहाँ  कोरोना का संक्रमण  के मामले कम हुए  है। तो वहीँ अब  ब्लैक फंगस धीरे-धीरे लोगों को अपनी चपेट में लेने लगा है। हाल ही में  चिचोली में एक ब्लैक फंगस का मामला सामने आया है। प्रारंभिक जांच में इसकी पुष्टि होने पर मरीज को भोपाल रेफर कर दिया गया है। जानकारी मिली है कि अब तक जिले में ब्लैक फंगस के लगभग आठ मामले सामने आ चुके हैं जिनमें से तीन की पुष्टि हो गई है और अन्य पांच की रिपोर्ट अब तक नहीं मिल पाई है। ब्लैक फंगस से संक्रमित मरीजों को उपचार हेतु भोपाल भेजा गया है।

बता दे कि कोरोना से ठीक हुए मरीजों में ब्लैक फंगस बीमारी होने का खतरा सबसे अधिक है इसे देखते हुए स्वस्थ होकर घर लौटे मरीजों से स्वास्थ्य अमला लगातार दूरभाष पर संपर्क कर बीमारी के लक्षण के संबंध में जानकारी ले रहा है। डॉक्टरों के अनुसार  ब्लैक फंगस बीमारी से घबराने की जरूरत नही है। समय रहते उपचार होने पर बीमारी से मरीज ठीक होते जा रहे हैं।

क्या है लक्षण 

नाक बंद होना   या नाक से काले रंग का डिस्चार्ज निकलना , नाक के पास गालों की हड्डियों में दर्द, चेहरे में दर्द, सुन्नापन एवं सूजन आना, लगातार सिर दर्द होना, आंखों में दर्द के साथ धुंधला दिखना, सीने में दर्द, सांस लेने में तकलीफ आदि लक्षण मिलने पर तत्काल चिकित्सक को दिखाना चाहिए।