कोरोना व मलेरिया की रोकथाम के लिए पूरे शहर में एक साथ हो रहा छिड़काव और सेनेटाइजेशन

Scn news india

कोरोना व मलेरिया की रोकथाम के लिए पूरे शहर में एक साथ हो रहा छिड़काव और सेनेटाइजेशन

एक बड़ी गाड़ी व 10 पंपों की मदद से हो रहा छिड़काव, कोरोना, मलेरिया की रोकथाम के लिए बेहद कारगर है सोडियम हाईपोक्लोराइड, क्रीसोलिक पाउडर का भी हो रहा छिड़काव।

सारनी। नगर पालिका शहर में कोरोना महामारी व मलेरिया से बचाव के लिए लगातार छिड़काव कर रही है। नगर पालिका ने मानक स्तर की दवाओं का छिड़काव लगातार जारी रखा है। कोरोना व अन्य वायरसों को जड़ से खत्म करने के लिए सोडियम हाईपोक्लोराइड को असरदार माना गया है। नगर पालिका सारनी रोजाना इसका छिड़काव कर रही है। इसके लिए नगर पालिका के एक बड़े वाहन के अलावा 10 पिट्ठू इलेक्ट्राॅनिक पंपों का उपयोग किया जा रहा है। इसके अलावा मच्छरों की रोकथाम के लिए क्रीसोलिक पाउडर व मलेरिया आइल का नालियों में छिड़काव हो रहा है। अच्छी बात यह है कि नगर पालिका के स्वछता मित्र अब घर-घर जाकर सेनेटाइजेशन कर रहे हैं।
नगर पालिका परिषद सारनी के स्वच्छता अधिकारी केके भावसार ने बताया कि बाहरी सरफेस पर एक्टिव कोरोना के वायसर को नष्ट करने के लिए सोडियम हाईपोक्लोराइड को पानी में मिलाकर छिड़काव करने के आदेश हैं। ये मिश्रण बेहद कारागर है। उन्होंने बताया नगर पालिका एक बड़े वाहन व 10 इलेक्ट्राॅनिक पंपों की मदद से सोडियम हाईपोक्लोराइड के मिश्रण का छिड़काव कर रही है। इसके अलाव मच्छरों की रोकथाम के लिए नालियों की सफाई कर उसमें क्रीसोलिक पाउडर व मलेरिया आइल का छिड़काव सतत जारी है। इससे मलेरिया, डेंगू, टाइफाइड समेत अन्य मच्छरजनित रोगों की रोकथाम होती है। श्री भावसार ने बताया कि मुख्य नगर पालिका अधिकारी श्री सीके मेश्राम के निर्देश पर सारनी, पाथाखेड़ा व शोभापुर जोनों में अलग-अलग टीमें तैनात कर छिड़काव किए जा रहा है। उन्होंने कहा कहीं भी गंदगी फैली दिखे तो इसकी सूचना क्षेत्र के सुपरवाइजरों को दें। गंदगी फैलाने वालों पर जुर्माने का प्रावधान भी है। संक्रमित मोहल्लों के अलावा एमपीपीजीसीएल, डब्ल्यूसीएल की कालोनियों में प्रत्येक आवास का सेनेटाइजेशन कार्य किया जा रहा है। वहीं सार्वजनिक स्थानों, बाहर से आने वाली बसों को भी सेनेटाइज किया जा रहा है।

कोविड प्रोटोकॉल से स्वच्छता मित्र कर रहे अंतिम संस्कार
नगर पालिका के स्वच्छता मित्र सारनी, पाथाखेड़ा व शोभापुर कालोनी के श्मशान घाटों, कब्रिस्तान की सफाई का कार्य तो कर ही रहे हैं साथ ही यहां आने वाले शवों का कोविड प्रोटोकॉल से अंतिम संस्कार भी कर रहे हैं। इसके लिए उन्हें पीपीई किट व अन्य सामग्री उपलब्ध कराई है।
नालों की सफाई भी शुरू, पाॅलीथीन का प्रयोग ना करने की अपील
नगर पालिका के स्वच्छता अधिकारी श्री भावसार ने बताया कि नालों की सफाई का काम भी शुरू कर दिया गया है। हालांकि इसमें अभी और तेजी लाने की जरूरत है। उन्होंने बताया अगले सप्ताह इसके लिए अभियान के तहत कार्य किया जाएगा। उन्होंने लोगों से गीला व सूखा कचरा अलग-अलग कचरा वाहनों में डालने, पाॅलीथीन का उपयोग ना करने का आग्रह किया है।