कोरोना संक्रमण की चपेट में आये कई फ्रंट लाईन वर्कर्स के परिजनों को सरकार देगी 50 लाख रूपए की सहायता राशि

Scn news india

मनोहर

मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण की चपेट में आने से कई फ्रंट लाईन वर्कर्स की मौत हो चुकी है. वायरस की चपेट में आकर कई डॉक्टर, नर्स और पुलिस जवान अपनी जान गंवा चुके हैं. इस बीच मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने पुलिसकर्मियों के लिए बड़ा ऐलान किया है. कोरोनाकाल में ड्यूटी के दौरान शहीद होने वाले पुलिसकर्मियों के परिजनों को सरकार 50 लाख रूपए की सहायता राशि (Compensation to family of Martyr police Personnel) और परिवार के एक सदस्य को नौकरी देगी.

इसके अलावा पुलिस के सेंट्रल वेलफेयर फंड से सरकारी सहायता के रूप में एक लाख रुपए की राशि भी उपलब्ध कराई जाएगी. गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी.

वहीं राज्य में एक मई से 18 साल से ज्यादा उम्र के लोगों का वैक्सीनेशन शुरू होने जा रहा है. वैक्सीनेशन के लिए मध्य प्रदेश सरकार ने सीरम इंस्टीट्यूट को 45 लाख डोज का आर्डर दिया है. सरकार पहले कोविशील्ड वैक्सीन खरीद रही है, जिस पर 180 करोड़ रु. खर्च होंगे. स्वदेशी वैक्सीन को-वैक्सीन की अपेक्षा कीमत कम होने की वजह से सरकार कोविशील्ड खरीद रही है.