फर्जी लेडी सब इंस्पेक्टर गिरफ्तार

Scn news india

संवादाता सुनील यादव मुड़वारा कटनी
कटनी जिले के माधवनगर थाने की झिंझरी चौकी पुलिस ने एक महिला को फर्जी सब इंस्पेक्टर बनने के आरोप में गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी महिला के पास से खाकी वर्दी मप्रपु का मोनो, टोपी, नेम प्लेट, नीली व्हीसल डोरी, ब्राउन बेल्ट, जूता, बैरेट कैप को जब्त किया है। आरोपी महिला के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर प्रकरण की विवेचना की जा रही है।
पुलिस ने बताया कि जबलपुर जिले के घमापुर थाना अंतर्गत कांचघर निवासी गेंदालाल गौटिया ने कटनी पुलिस अधीक्षक कार्यालय में शिकायत पत्र दिया। जिसमें बताया गया कि उनकी बेटी संजना गौंटिया (27) एसआई के पद पर है और कटनी पुलिस विभाग में पदस्थ है। लेकिन उसको उसको वेतन नहीं दी जा रही है। शिकायत पत्र में आवेदन दिलाए जाने और वेतन अब तक नहीं मिलने पर जिसके द्वारा लापरवाही की गई है उसके खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई।

शिकायत की जांच में पुलिस को पता चला कि संजना गौंटिया नाम की कोई भी महिला कटनी जिले में एसआई के पद पर पदस्थ नहीं है।  पुलिस टीम ने 18 अप्रैल को पुलिस अधीक्षक कार्यालय के पास से खाकी वदी और दो स्टार लगाए हुए एक महिला जिसकी नेम प्लेट में संजना गौंटिया लिखा हुआ था उसे हिरासत में लिया। पूछताछ में संजना गौंटिया ने बताया कि वह पुलिस विभाग में नहीं है। उसने अपने पिता और मोहल्ले वालों से झूठ बोला था।

आरोपी महिला संजना ने पुलिस पूछताछ में बताया कि उसने 2017 में एसआई की परीक्षा दी थी, लेकिन उसका चयन नहीं हुआ था। बावजूद इसके संजना द्वारा अपने घर वालों और मोहल्ले वालों से कहा कि उसका सिलेक्शन हो गया है। वर्ष 2018 में वह ट्रेनिगं करने के लिए सागर गई और वहां हॉस्टल में किराए का कमरा लेकर करीब 15 महीने रही। जबकि यहां पर कोई ट्रेनिग नहीं हुई। लेकिन वह अपने पिता से लगातार झूठ बोलती रही है। पिछले वर्ष अप्रैल महीने में उसने अपने पिता से कहा कि उसकी पोस्टिंग कटनी में हो गई। उसके द्वारा अपने पिता से रुपए भी ये कहकर मांगे गए कि उसे जब सैलरी मिलेगी तो वह वापस कर देगी। पुलिस ने बताया कि आरोपी महिला जबलपुर स्थित अपने घर से कटनी में ड्यूटी करने के लिए वर्दी पहनकर निकलती थी और रोज अपडाउन करती थी।
पूरी कार्रवाई पुलिस अधीक्षक IPS मयंक अवस्थी के निर्देशन, ASP संदीप मिश्रा, CSP शशिकांत शुक्ला, माधवगनर थाना प्रभारी TI संजय दुबे के मार्गदर्शन में की गई। कार्रवाई में झिंझरी चौकी प्रभारी SI रश्मि सोनकर, प्रधान आरक्षक मनी, गंगाराम, राजेश व सायबर सेल की भूमिका रही।