वैक्सीनेशन हेतु प्रशासन ने चलाया जागरूकता अभियान

Scn news india

कैलाश सेन 

रैपुरा -संपूर्ण देश मैं इन दिनों कोरोना वायरस से सुरक्षा हेतु वैक्सीनेशन का कार्य शासन द्वारा किया जा रहा है जिसमें सभी लोगों से वैक्सीन लगवाने के लिए बार-बार कहा जा रहा है अनेक लोग सतह वैक्सीनेशन करवा रहे हैं परंतु एक बहुत बड़ा वर्ग ऐसा भी है जो विभिन्न प्रांतों और अफवाहों के कारण कोरोना वैक्सीन लगवाने से परहेज कर रहा है जिसके लिए शासन द्वारा विभिन्न माध्यमों से सत प्रतिशत लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है सरकार द्वारा विभिन्न समाजसेवी संस्थाओं और संगठनों द्वारा भी इस हेतु प्रेरित करने के लिए कहा जा रहा है इसी क्रम में जन अभियान परिषद पन्ना के मार्गदर्शन में जन उत्थान एवं जागरूकता संघ द्वारा रेपुरा तहसील के विभिन्न ग्रामों में रैली निकालकर लोगों को कोरोना वैक्सीन लगवाने तथा मास्क का उपयोग करने सोशल डिस्टेंसिंग तथा लॉकडाउन के नियमों का शत-प्रतिशत पालन करने हेतु प्रेरित किया जा रहा है। इसी क्रम में रविवार को संस्था के द्वारा कुछ वालंटियर तथा जागरूक लोगों की उपस्थिति में ग्राम बगरोड तहसील रेपुरा जिला पन्ना मैं भी रैली निकालकर तथा घर घर जाकर लोगों को उपरोक्त बातों के लिए प्रेरित किया गया। तथा स्वास्थ्य कर्मियों से अभी तक वैक्सीनेशन नहीं करवाने वाले लोगों की सूची ली गई और उनके घर घर जाकर संपर्क किया गया। तथा मास्क का वितरण भी किया गया। परंतु इतने गंभीर कार्यों में भी स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही सामने आई वैक्सीनेशन मैं कार्यरत सुपरवाइजर भभूत सिंह से जब जानकारी ली गई तो उन्होंने बताया कि आज 11 मार्च दिन रविवार को 4 एएनएम की ड्यूटी लगाई गई थी जिनमें से 2 एएनएम अनुपस्थित है मौके पर ही यहां का कार्य देख रहे डॉक्टर लोहिया को संस्था के सदस्यों द्वारा तथा पत्रकार द्वारा जानकारी दी गई। इस पूरे कार्यक्रम में जन उत्थान एवं जागरूकता संघ के सदस्य पत्रकार और करोना वालंटियर सामाजिक कार्यकर्ता देवकीनंदन सोनी रोजगार सहायक मनोज चतुर्वेदी तथा वालंटियर तुलसीराम रजक मंगल सेन उदय पटेल रामसनेही चौबे हर्षवर्धन बैंड तथा चौकीदार लखन लाल वंशकार धनी बंशकार सहित संस्था के सदस्य तथा ग्रामीण लोगों ने महत्वपूर्ण योगदान दिया। रैली के बाद ऐसे बहुत सारे लोग जो अफवाहों और विभिन्न भ्रांतियों के कारण वैक्सीनेशन से दूरी बनाए हुए थे उन्होंने स्वास्थ्य केंद्र आकर कोरोना वैक्सीन लगवाई। वॉलिंटियर तथा संस्था के लोगों द्वारा वैक्सीन लगवाने वाले लोगों जिनको कुछ स्वास्थ्य संबंधी परेशानी थी उनको स्वास्थ्य केंद्र लाकर उनका चेकअप करवाया गया तथा उन्हें दवाई दिलवाई गई। जब से करो ना संक्रमण की बीमारी हुई है तभी से जन उत्थान संघ लगातार लोगों के बीच जाकर अपनी गतिविधियों को अंजाम देता रहा है पिछले वर्ष करोना काल के समय लॉकडाउन के समय संस्था द्वारा लोगों को लॉकडाउन का पालन करने के लिए प्रेरित करने के साथ-साथ गरीब लोगों को अनाज वितरण भी किया गया था। बिना किसी सरकारी मदद के स्वयं से इस तरह के कार्य संस्था द्वारा अनेक वर्षों से किए जा रहे हैं जोकि निश्चित ही एक अनुकरणीय पहल है।