नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों की ठगी करने वाले फर्जी कॉल सेंटर का संचालक गिरफ्तार

Scn news india

मनोहर

एक साल से चला रहे थे फर्जी कॉल सेंटर ।

दिल्ली व मैनपुरी में स्थानों पर चला रहे थे कॉल सेंटर ।

आईण्सीण्आईण्सीण्आई व एचण्डीण्एफण्सीण् बैंक मे नौकरी दिलाने के नाम पर करते थे ठगी ।

देश के मण्प्रण् राज्य के करीबन सौ लोगों के साथ करीबन 50 लाख रुपये की कर चुके हैं ठगी ।

भोपाल : दिनांक 06 अप्रैल 2021- अति० पुलिस महानिदेशक भोपाल जोन भोपाल श्री ए सांई मनोहर एवं उप पुलिस महानिरीक्षक शहर भोपाल श्री इरशाद वली व पुलिस अधीक्षक दक्षिण श्री साईं कृष्णा थोटा द्वारा दिये गये निर्देश के पालन में अतिण् पुलिस अधीक्षक जोन.1 भोपाल श्री अंकित जायसवाल एवं उप पुलिस अधीक्षक सायबर श्रीमति नीतू सिंह के मार्गदर्शन में सायबर क्राइम ब्रान्च जिला भोपाल की टीम गाठित कर बैक मे जॉब दिलाने के नाम के नाम पर फरियादिया के साथ लगभग 45500/.रूपये की धोखाधडी करने वाले आरोपियो को उत्तरप्रदेश से गिरफ्तार किया गया है।

संक्षिप्त विवरण- आवेदक असमा खुर्शीद निवासी कोहेफिजा भोपाल का शिकायत आवेदन प्राप्त हुआ जिसमें आईण्सीण्आईण्सीण्आईण् बैक मे जॉब दिलाने के नाम पर अज्ञात व्यक्तियों द्वारा 45,500 रूपये की धोखाधङी करने संबंधी तथ्य लेख थे।

उक्त शिकायत आवेदन पत्र की जांच पर थाना क्राईम ब्रांच भोपाल में अपण्क्रण्.74/21 धारा 419,420 भाण्दण्विण् का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। विवेचना के दौरान दिनांक 03ध्04ध्2021 को निम्न आरोपीगण कोआदित्य यादव उम्र 22 साल निवासी जिला मैनपुरी । मनीष चौहान उम्र 21 साल निवासी जिला मैनपुरी उण्प्रण् ।भूपेन्द्र राठौर उम्र 23 साल निवासी जिला मैनपुरी ।सायबर क्राईम भोपाल की टीम ने आरोपीगण के जिला मैनपुरी उण्प्रण् से गिरफ्तार किया।

बारदात का तरीका- आरोपीगण क्विकर वेबसाईट के माध्यम से डेटा खरीदते थे। डाटा के आधार पर आम लोगों को कॉल करते थे। आईण्सीण्आईण्सीण्आईण् बैंक व एचण्डीण्एफण्सीण् बैंक मे डाटा इण्ट्री तथा अन्य पदो पर नौकरी दिलाने के नाम पर फर्जी बैंक अधिकारी बनकर आवेदको से उसके दस्तावेज ॅभ्।ज्ै ।च्च् पर मांगकर बोलते थे कि आपको बैंक मे नौकरी के लिये चयनित कर लिया गया है। यदि आप नौकरी करना चाहते है तो आपको रजिस्ट्रेशन फीस देनी पडेगी जिसे आरोपी अपने फर्जी गुगल.पे व पेटीएम एकाउण्ट मे डलवा लेते थे। उसके बाद खाता खुलवाने सत्यापन राशि व अन्य सिक्योरिटी चार्ज के नाम पर और पैसे फरियादी से फर्जी खातो मे डलवाते थे। बाद मैं फरियादियां को पैसे वापस करने का बोलती है। उससे अन्तिम बार राशि जमा करने पर कुल राशि वापस करने का बोलकर और पैसे डालने का दवाब बनाते थे।

पुलिस कार्यवाहीः- सायबर क्राइम जिला भोपाल की टीम द्वारा अपराध कायमी के पश्चात् तकनीकि एनालिसिस के आधार पर त्वरित कार्यवाही कर कुल 32500 रुपये फ्रीज किये गये तथा 03 आरोपीगणो को गिरफ्तार किया गया । आरोपीगणों से प्रकरण में प्रयुक्त 06 नग मोबाईल फोनए 07 सिम व अन्य दस्तावेजो को जप्त किया गया है।

पुलिस टीम- उनि विवेक आर्य, सउनि शेषनाथ सिंहए प्रण्आरण् चिन्ना रावए आरण् 3117 अशीष मिश्राए आरण् 1251 प्रशान्त शर्माए आरण् 4112 सुनील कुमार।