ग्राउंड रिपोर्ट – भारी पड़ सकती है ये लापरवाही – जारी है बेरोकटोक आवागमन

Scn news india

आशुतोष त्रिवेदी ब्यूरो रिपोर्ट एससीएन न्यूज

भैंसदेही-मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने  प्रदेश में  लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण की रफ़्तार रोकने , जहां भोपाल,इंदौर, छिंदवाड़ा ,बैतूल सहित प्रदेश के 12 जिलों में  न चाहते हुए भी 72 घंटे का लॉकडाउन  लगाना पड़ा  । वहीँ अतिसंवेदन शील महाराष्ट्र  से यात्री परिवहन पूरी तरह प्रतिबंधित कराया। और तो और महाराष्ट्र  की सीमाओ को पूरी तरह सील करने के  आदेश  दिए । ताकि  संक्रमण की चैन तोड़ी जा सके। ऐसे में  प्रदेश के हर नागरिक का दायित्व बनता है की संक्रमण को रोकने में अपनी भूमिका निभाए। मास्क लगाए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करे।

एक जिम्मेदार मिडिया संस्थान होने के नाते हमारा भी कर्तव्य है की संक्रमण को रोकने में अपना योगदान दें। जब हमारे संवाददाता आशुतोष त्रिवेदी ने भैसदेही से परतवाड़ा जाने वाले मार्ग पर सीमावर्ती चेक पोस्ट की हकीकत जानने मौके का मुआयना किया तो चौकाने वाली रिपोर्ट सामने आई।

यहाँ  जिला प्रशासन के निर्देश के बाद भी खोमई बेरियर से बेरोकटोक बिना जांच के लोगों का आवागमन जारी मिला । जो बड़ी लापरवाही कही जा सकती है।   महाराष्ट्र सीमा पर पडऩे वाले खोमई बैरियर से  खुलेआम महाराष्ट्र से लोगों का आना-जाना जारी है और लोग बेरोकटोक जिले की सीमा में प्रवेश कर रहे है। हालात यह है कि मोटरसाइकिल और निजी वाहनों से लोग बिना जांच के ही प्रवेश कर रहे है। लेकिन इन्हें रोकने वाला भी कोई नहीं। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि रात को पूरे समय बिना निरीक्षण के यहां से लोग जिले की सीमा में प्रवेश कर रहे है, जो किसी खतरे से कम नहीं है। गौरतबल है  कि महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मरीजों की संख्या विस्फोटक रूप ले चुकी है।  वहीँ महाराष्ट्र की सीमा से सटे मध्यप्रदेश के गाँव भी संक्रमण की चपेट में है। फिर भी  यहां से होकर अन्य राज्यों और स्थानों पर जाने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है। इससे कोरोना को लेकर क्षेत्र में भी खतरा बढ़ गया है। जिस पर समय रहते शीघ्र अंकुश लगाया जाना आवश्यक है।  हालांकि हमारा कैमरा देख व्यवस्था कुछ दुरुस्त नजर आई। लेकिन ये चिंता का विषय है।

Live Web           TV