चक्रवाती तूफान का मंडराया खतरा, यहां भारी बारिश के बीच तेज हवाएं चलने के आसार

Scn news india

 

मनोहर

चक्रवाती तूफान का मंडराया खतरा, यहां भारी बारिश के बीच तेज हवाएं चलने के आसार

बंगाल की खाड़ी में बना सीजन का पहली डिप्रेशन, चक्रवाती तूफान का मंडराया खतरा

नई दिल्ली। देशभर के कई राज्यों में मौसम का मिजाज लगातार करवट ले रहा है। कहीं बारिश ( Rain ) तो कहीं भीषण गर्मी की दस्तक ने परेशानियां बढ़ा दी हैं। इस बीच भारतीय मौसम विभाग ने बड़ा अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के मुताबिक देश के एक हिस्से में चक्रवाती तूफान का खतरा मंडरा रहा है।
इस तूफान के चलते तेज हवाएं तो चलेंगी ही साथ ही भारी बारिश भी मुश्किल बढ़ा सकती है। आपको बता दें कि मौसम विभाग ने इस बार देश के कई इलाकों में अप्रैल के महीने में ही भीषण गर्मी की चेतावनी जारी की है।
इस वजह से मंडराया चक्रवाती तूफान का खतरा
मौसम विभाग की मानें तो चक्रवाती तूफान के खतरे की बड़ी वजह बंगाल की खाड़ी में बन रहा डिप्रेशन है। यह इस सीजन का पहले निम्न दबाव का क्षेत्र बना है। मौसम विभाग की मानें तो ये डिप्रेशन चक्रवाती तूफान में तब्दील हो सकता है।
इसके साथ ही मौसम विभाग का अनुमान है कि ये डीप डिप्रेशन में भी बदल सकता है।
ये होगा असर
डिप्रेशन की वजह से संबंधित इलाके में हवाओं की गति तेज हो जाएगी। पूर्वानुमान के मुताबिक 40 से 50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने की आशंका है।
यहां दिख रहा डिप्रेशन का असर
बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का सीधा असर शुक्रवार देर रात तक अंडमान में देखा गया है। हालांकि अभी इसकी पोर्टब्लेयर से दूरी 500 किमी बनी हुई है। लेकिन इसके आने वाले दिनों तेजी आगे बढ़ने की भी संभावना है।
इसके अलावा इस कम दबाव के क्षेत्र का असर म्यांमार के ये यांगून में भी दिखाई दे रहा है। यहां से भी इसकी दूरी फिलहाल काफी ज्यादा है, लेकिन इसके म्यांमार तट से उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ने की संभावना है।
अंडमान में भारी बारिश के आसार
मौसम विभाग के मुताबिक डिप्रेशन के चलते अंडमान में भारी बारिश होने की संभावना बनी हुई है। इसके अलावा यहां 65 किलोमीटर की रफ्तार से तेज हवा भी चल सकती है।
मछुआरों को ये सलाह
मौसम विभाग की ओर से मछुआरों के लिए भी अलर्ट जारी किया गया है। मछुआरों को अगले 24 घंटे के दौरान समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है।
इन राज्यों में बारिश की संभावना
देश के अन्य राज्यों की बात करें तो पूर्वोत्तर के इलाकों में बारिश के आसार बने हुए हैं। इनमें असम और अरुणाचल प्रदेश में मौसम खराब रहने के बीच मध्यम बारिश के आसार बने हुए हैं। इसके साथ ही पश्चिम बंगाल और ओडिशा के कुछ इलाकों में भी हल्की बारिश के आसार हैं।
वहीं मौसम की जानकारी देने वाली निजी संस्था स्काईमेट वेदर के मुताबिक दक्षिण के भी कुछ राज्यों में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना बनी हुई है। इनमें केरल और तमिलनाडु के कुछ इलाके शामिल हैं।
यहां गर्मी बढ़ाएगी मुश्किल
एक तरफ बारिश और तूफान परेशानी खड़ी कर सकते हैं तो दूसरी तरफ देश के कई राज्यों में अब प्रचंड गर्मी लोगों की मुश्किल बढ़ा सकती है।
इनमें ओडिशा, तमिलनाडु, कच्छ, तेलंगाना, राजस्थान, उत्तर भारत के कुछ इलाकों समेत गंगीय क्षेत्रों में भी तापमान में तेजी से बढ़ोतरी देखने को मिलेगी।