जिले को नशे से मुक्त करना है

Scn news india

कामता तिवारी
संभागीय ब्यूरो रीवा
Scn news india

नदी पुर्नजीवन अभियान के तहत जल संरचनायें निर्मित करें – कलेक्टर

रीवा – कलेक्टर इलैयाराजा टी ने नशामुक्त भारत अभियान की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुये कहा कि भारत सरकार द्वारा नशामुक्त भारत अभियान में रीवा जिले को भी शामिल किया गया है। इसका मुख्य कारण है कि जिले में युवा वर्ग नशे की गिरफ्त में जा रहे है। यहां शहरी क्षेत्रों के साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में भी नशा करने वाले बहुतायत संख्या में है। यहां पर कोरेक्श, गांजा, नशीली दवाये, नशीले इजेक्शन का नशा युवा वर्ग करते हैं। जिला प्रशासन ने प्रो-एक्टिव होकर कोरेक्स, गांजा, नशे की दवाई, नशे का इजेक्शन एवं शराब व्यापारियों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की है। कोरेक्स एवं नशे की गोलियां तथा इंजेक्शन का व्यापार रोकने के लिये मेडिकल शॉप की लगातार जांच की जा रही है। अब तक तीन मेडिकल स्टोर को सील कर उनका लाइसेंस निरस्त किया गया है। उन्होंने कहा कि नशे के दुष्प्रभाव के प्रति जागरूक करने के लिए शैक्षणिक संस्थानों एवं समुदायों में जन जागरूकता अभियान चलाया जाये। कलेक्टर ने बैठक के अंत में उपस्थितों को नशा न करने के लिए शपथ दिलाई।
उन्होंने कहा कि नशे के दुष्प्रभाव से बचाने के लिये युवा वर्ग को जागरूक किया जा रहा है। संजय गांधी अस्पताल में नशा मुक्ति केन्द्र स्थापित किया गया है। इसके साथ ही नशे के दुष्प्रभाव से युवा वर्ग को बचाने के लिये जन जागरण अभियान चलाया जा रहा है। इसके अतिरिक्त ग्राम समुदाय के साथ संगोष्ठी, दीवार लेखन, जागरूकता रैली, सामूहिक शपथ, नशामुक्ति की ऑनलाइन शपथ दिलाने हेतु अभियान चलाया जा रहा है।
कलेक्टर ने कहा कि नदी पुर्नजीवन अभियान के तहत जिले की चयनित 9 नदियों के कैचमेंट एरिया में पंचायत स्तरीय कार्यदल, नदी चेतना यात्रा, नदी चौपाल, कैचमेंट एरिया में 100 संरचनाओं का चिन्हांकन किया जा रहा है। नदी कैचमेंट क्षेत्रों में स्थित जल संरचनाओं जैसे तालाब, बाबडि़यों, नालों का जीर्णोद्धार किया जायेगा। उन्होंने कहा कि नदी पुर्नजीवन हेतु सामाजिक भागीदारी से जन जागरूकता अभियान संचालित किया जायेगा। उन्होंने बताया कि रीवा में बिछिया नदी, रायपुर कर्चुलियान में बकचा नदी, गंगेव में गोहिया नदी, नईगढ़ी में संडा नदी, सिरमौर में खोरबई नदी, जवा में किटहा नदी, त्योंथर में चितौली नदी, हनुमना में बरघाट नदी एवं मऊगंज की ओड़ा नदी का चयन नदी पुर्नजीवन अभियान के अन्तर्गत किया गया है।
पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार सिंह ने कहा कि नशामुक्ति अभियान के अन्तर्गत पुलिस द्वारा टीमें गठित कर कोरेक्स, गांजा, नशीली दवाये, इजेक्शन एवं शराब व्यापारियों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की गई है। नशे के विरूद्ध पुलिस द्वारा लगातार कार्यवाही जारी रखी जायेगी।
बैठक में नगर पालिक निगम आयुक्त मृणाल मीण, एडीशनल एसपी शिव कुमार वर्मा, महिला बाल विकास विभाग की कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती प्रतिभा पाण्डेय सहित जिला अधिकारी उपस्थित थे।