खून के थक्‍कों और एस्‍ट्रेजेनेका वैक्‍सीन के बीच किसी संभावित संबंध की जांच

Scn news india

मनोहर

विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के वैक्‍सीन और टीकाकरण विभाग के प्रमुख डॉक्‍टर केट ओ ब्रायन ने कहा है कि उनका संगठन और यूरोप की चिकित्‍सा संस्‍थाएं खून के थक्‍कों और एस्‍ट्रेजेनेका वैक्‍सीन के बीच किसी संभावित संबंध की जांच कर रही हैं। यूरोप में एस्‍ट्रेजेनेका वैक्‍सीन लेने के बाद शरीर में खून के थक्‍के बनने के मामले सामने आने के बाद इस वैक्‍सीन के उपयोग पर अस्‍थायी रूप से रोक लगा दी गई है।

विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन की वैक्‍सीन से संबंद्ध समिति इस मुद्दे पर विचार कर रही है।

संगठन ने एक बयान में बताया कि समीक्षा पूरी होने के बाद इसके परिणाम जनता का बताये जाएंगे। संगठन ने यह भी बताया कि वह यूरोप की चिकित्‍सा संस्‍थाओं और दुनियाभर की चिकित्‍सा नियामक संस्‍थाओं के साथ कोविड वैक्‍सीन की सुरक्षा को लेकर निरन्‍तर सम्‍पर्क में है। संगठन का मानना है कि एस्‍ट्रेजेनेका वैक्‍सीन के लाभ उसके जोखिम से कहीं ज्‍यादा हैं इसलिए इसका उपयोग जारी रहना चाहिए।