न्याय की तलाश में 8 वर्षों से सरकारी दफ्तरों के चक्कर काट रहा है उत्तर प्रदेश से आया राम मनोज प्रजापति, दलालों ने पूर्व में कराई थी जाली रजिस्ट्री

Scn news india

संवाददाता, ज़ाहिद हुसैन सिद्दीकी

पीड़ित राम मनोज प्रजापति उत्तर प्रदेश के एक गांव से अपनी पुरखों की जायदाद को बेचकर सुकून की तलाश में बड़वारा तहसील के भजिया ग्राम मे दो एकड़ जमीन तीन लाख में दलालो के माध्यम से श्याम बाई नामक महिला से खरीदी थी,,लेकिन पीड़ित को जो भुमि दिखाई गई थी उसकी रजिस्ट्री करने के वजह उस जमीन की रजिस्ट्री कराई गई जिसमे पहले से ही कोई काबिज है अब पीड़ित पिछले 8 वर्षों से अपनी ही भूमि में काबिज होने के लिए बड़वारा तहसील कार्यालय का चक्कर काट रहा है लेकिन कुछ हासिल नहीं हुआ है,,,,,हैरानी की बात यह है कि जिस जमीन की रजिस्ट्री पीड़ित के पास है उस जमीन का नामोनिशान भजिया ग्राम के जमीन अभिलेख में नहीं है
कहीं ना कहीं इस पूरे मामले में प्रशासन की बड़ी लापरवाही शामिल है जो कोई नई बात नही है ऐसी कई लापरवाहीयो की वजह से राम मनोज जैसे पीड़ित बेघर हो चुके है जिससे किसी को कोई फर्क नही पड़ता।