‘स्वच्छता ऐप’ पर अपलोड करें फोटो, सफाई नहीं तो होगी कार्रवाई- अपने अधिकारों के प्रति बने जागरूक

Scn news india
हर्षिता वंत्रप भोपाल 
भोपाल -आपके घर के आसपास गंदगी है या कई दिनों से सफाई नहीं हुई तो परेशान हों। सिर्फ एक मोबाइल ऐप के इस्तेमाल से गंदगी दूर होगी। इस मोबाइल ऐप का नाम पर स्वच्छता। आपको सिर्फ गंदगी की फोटो खींचकर स्वच्छता ऐप में अपलोड करानी होगी।
फोटो सिस्टम में पहुंच जाएगी, जहां से चंद घंटों के अंदर सफाई हो जाएगी। केंद्र सरकार ने स्वच्छता ऐप के जरिए स्वच्छ भारत अभियान को सफल बनाने की मुहिम आगे बढ़ाई है। ऐप की विशेषता यह है कि कोई भी व्यक्ति किसी भी क्षेत्र से गंदगी या जलभराव की फोटो खींचकर शिकायत दर्ज करा सकता है।
जीपीएस सिस्टम से जुड़ा होने की वजह से लोकेशन इसमें खुद पता चल जाएगी और इसका एसएमएस तुरंत इलाके के सफाई कर्मचारियों के प्रभारी के मोबाइल पर जाएगा। मैसेज मिलते ही प्रभारी को सफाई करवाकर रिपोर्ट देनी होगी। सफाई होने के बाद इसकी सूचना निगम कमिश्नर के ई-मेल पर जाएगी। उच्चाधिकारियों के मुताबिक, स्वच्छ भारत अभियान के तहत प्रत्येक जिले में टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा।
केंद्र सरकार के स्वच्छता एप से  नगर निगम/नगर पालिका  भी जुड़ गई है। समस्या का फोटो इस ऐप पर अपलोड करने से वह सीधे केंद्र के हेल्प डेस्क सिस्टम पर और नगर पालिका /नगर निगम के सेनेटरी इंस्पेक्टर के पास पहुंच जाएगा। समस्या दिखाने वाली तस्वीर किस लोकेशन पर है, यह उसमें रिकार्ड होगा।
सफाई सेवक उस समस्या के निस्तारण के बाद वहां का फोटो कर अपलोड करेगा। अगर फोटो उस स्थान का नहीं होगा तो ऐप में उसे स्वीकार नहीं किया जाएगा। इससे सटीक समस्या का निदान होगा। इस ऐप के माध्यम से जहां आम लोगों की शिकायतें दूर की जाएंगी वहीं सफाई कर्मचारियों की अटेंडेंस भी होगी।
प्रतियोगिता के अंक निर्धारित : 100नंबरों की प्रतियोगिता में 5 फीसदी शहर में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट, 5 फीसदी अवेयरनेस, बिहेवियर चेंज, 20 फीसदी कूड़े की प्रोसेसिंग, 15 फीसदी पब्लिक-कम्युनिटी टॉयलेट, 15 फीसदी हर घर में टॉयलेट, 40 फीसदी डोर टू डोर कलेक्शन, स्वीपिंग, ट्रांसपोर्टेशन के मिलेंगे।
शिकायतकर सकेंगे री-ओपन : ऐपमें सफाई सेवक द्वारा डाली गई फोटो के बाद भी संतुष्ट नहीं होने पर शिकायतकर्ता अपनी शिकायत को री-ओपन कर सकेगा। शिकायतकर्ता के संतुष्ट होने के बाद ही निगम के पोर्टल पर शिकायत कम होगी।
केंद्र के कंट्रोल में होगा ऐप
केंद्रस्वच्छ भारत अभियान के तहत सफाई पर शहरों में कंपीटिशन करा रहा है। इसमें पब्लिक का फीडबैक लेने के लिए यह ऐप लॉन्च कर शहरों को जोड़ा है। देश के 500 शहरों के बीच स्वच्छ भारत अभियान के तहत सफाई का कंपटीशन कराया जाएगा, जो जनवरी तक चलेगा और जनवरी से केंद्र की टीम जांच करने शहर में पहुंचेगी। निगरानी पीएमओ कार्यालय से होगी।
सर्वे में सुधारेंगे रैंकिंग
नगरनिगम ने यह ऐप अगले साल जनवरी में होने स्वच्छ भारत सर्वे के मद्देनजर भी लांच किया है। पिछली बार इस ऐप के होने से नगर निगम के काफी नंबर कटे थे। सर्वे में जनता की शिकायतों को दूर करने के लिए अच्छे नंबर मिलते हैं। सीमित संसाधन और कर्मचारियों के साथ सफाई में सुधार के लिए प्रयास कर रहे प्रशासन के सामने समय में काम करना चुनौती होगी।
टोल फ्री नंबर 1969 पर भी करें शिकायत
खास बात यह है कि ऐप पर आने वाली शिकायतों और उन पर हुई कार्रवाई की पूरी रिपोर्ट ऐप के जरिए ही केंद्र सरकार तक पहुंचेगी। इस ऐप के लिए निगम अफसरों और सफाई कर्मचारियों के वॉर्ड इंचार्जों के नाम नंबर केंद्र सरकार ने मंगाए हैं, इन्हें अपडेट कर दिया गया है। इसके साथ ही नेशनल लेवल का टोल फ्री नंबर 1969 भी जारी किया गया है। इस पर लोग अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। ‘स्वच्छता ऐप’ प्ले स्टोर में मिलेगा। ध्यान रखें इस एप पर सोमवार से शनिवार तक सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक ही शिकायत दर्ज  की  जाती है। जो ऑनलाइन तब तक डिस्प्ले होती है जब तक शिकायत कर्ता संतुष्ट ना हो। जिसकी समय सीमा भी तय है जिसके बाद संबंधित कर्मचारी अधिकारी पर हाईलेबल अथॉरिटी स्वतः संज्ञान ले कर कारवाही करती है।

एप डाउनलोड करे – –क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

All rights reserved by "scn news india" copyright' -2007 -2019 - (Registerd-MP08D0011464/63122/2019/WEB)  Toll free No -07097298142
error: Content is protected !!