विधायक डागा को जान से मारने की धमकी मप्र शासन का कलंक है -सोलंकी

Scn news india

दिलीप पाल आमला
आमला- युवा कांग्रेस विधानसभा अध्यक्ष अजयसिंह सोलंकी ने कांग्रेस विधायक निलय डागा को शनिवार देर शाम किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा फ़ोन पर अपशब्दों का प्रयोग करते हुए जान से मारने की धमकी दिए जाने को बेहद निंदनीय कृत्य बताते हुए निंदा की हैं। साथ ही मप्र की भाजपा सरकार से इस लड़खड़ाती कानून व्यवस्था पर सख्त और स्पष्ट कार्यवाही की मांग की हैं।
गौरतलब है कि बैतुल के लोकप्रीय युवा दबंग विधायक श्री निलय विनोद डागा द्वारा सड़क से लेकर विधानसभा तक भ्रषटाचार,महिलाओं से दुराचार,किसानों पर अत्याचार, युवाओं के लिए रोजगार,और बढ़ती महगाई के खिलाफ जमीनी जंग लगातार लड़ी जारही है। यही नही राम को अपनी सत्ता का सुरक्षाकवच मान कर चल रही भाजपा के इस किले को भी भेदते हुए राम मन्दिर निर्माण के लिए सहभागिता अभियान चला कर हर तरफ ये संदेश देने में भी सफलता प्राप्त कर ली है कि राम किसी दल के नही हर भारतीय दिल में बसते हैं ।
श्री डागा के इन्ही अभियानों के चलते न केवल विपक्ष बल्कि भ्रष्ट,दुराचारी,जमात एक जुट होकर अनेकानेक तरह से श्री डागा पर दबाव बनाने का प्रयास लगातार कर रहें है।
इसी कड़ी में अब जान से मारने की धमकी दी जाना एक अतिसवेंदनशील मामला हैं। जब जनप्रतिनिधियो के जानमाल की सुरक्षा ही संभव नही होगी तो महिलाओं सहित आमजन मप्र शासन में कहाँ सुरक्षित रह पाएंगे?
माननीय मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान,माननीय ग्रहमंत्री नरोत्तम मिश्रा से युवा कांग्रेस अध्यक्ष अजयसिंह सोलंकी ने बैतुल के लोकप्रिय युवा विधायक निलय विनोद डागा को जान से मारने वाली मिली धमकी के आरोपी और उसके संभवत: संरक्षक को अविलम्ब गिरफ्तार करके सारे प्रकरण का पारदर्शी पर्दाफाश करने की मांग की हैं।
बिगड़ी कानून व्यवस्था को अविलंब चुस्त दुरुस्त नही किया गया और कांग्रेस के युवा विधायक माननीय डागा जी को तरह तरह से मिलने वाली इन धमकियों -प्रताड़नाओं के खिलाफ सख्त कार्यवाही नही की गई तो जिले भर का युवा आंदोलन करने के लिए मजबूर होगा इससे होने वाली अव्यवस्थाओं के लिए शासन प्रशासन जनअदालत में जवाबदेह होगा।