ज्ञान गंगा अभियान-समाज को स्वस्थ्य रखने की होगी अभिनव पहल

Scn news india

कामता तिवारी
संभागीय ब्यूरो रीवा
Scn news india

रीवा- कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी द्वारा प्रारंभ किये गये नवाचार ज्ञान गंगा अभियान के तहत समाज को स्वस्थ्य रखने की अभिनव पहल प्रारंभ की जायेगी। यह कार्य ज्ञान गंगा अभियान एवं भारतीय चिकित्सा संघ महिला शाखा के तत्वाधान में किया जायेगा। कलेक्टर इलैयाराजा टी ने कहा कि यदि हमारा शरीर स्वस्थ्य नहीं रहेगा तो किसी भी काम में मन नहीं लगेगा। ध्यान भटकता रहेगा अत: पहला काम हमें स्वस्थ्य रहना है।
कलेक्टर ने कहा कि एक व्यक्ति को स्वस्थ्य रहने के लिये आवश्यक है कि पोषक तत्वयुक्त, विटामिन्स, मिनरल, एण्टी आक्सीडेन्ट से भरपूर खाना खाया जाये। किशोरावस्था में कैलोरी, प्रोटीन, विटामिन, मिनरल एवं पानी की आवश्यकता होती है। इसी प्रकार यहां की गर्भवती महिलाओं में खून की कमी रहती है इसको दूर करने के लिये आयरन फौलिक एसिड की गोलियां दी जाये। इसी प्रकार 5 वर्ष के कम बच्चों को 6 माह तक केवल माँ का दूध दिया जाय। 6 माह के उपरांत बच्चे को पूरक आहार दिया जाय। उन्होंने कहा कि समाज को स्वस्थ्य रखने के लिये सिस्टमेटिक प्लान बनाया जाय और इसका प्रभावी क्रियान्वयन किया जाय। इसके लिये लोगों से लगातार संवाद करना होगा। लोगों को न्यूट्रीशन की कम जानकारी है। आवश्यक है कि इसकी बेसिक जानकारी दी जाये। उन्होंने कहा कि जागरूकता के बाद भी 50 प्रतिशत महिलायें खून की कमी की शिकार है। उन्हें बताया जाये कि वे आयरन की गोली नियमित रूप से ले। यदि माँ कमजोर होगी तो उसका बेटा कम वजन का पैदा होगा। ग्रामीण क्षेत्रों की अधिकांश महिलायें सेनेटरी पेड का इस्तेमाल नहीं करती और इससे गंभीर बीमारियों का शिकार होती है। अत: महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं का चयन कर उन्हें स्वास्थ्य सैनिक नाम देकर प्रशिक्षित किया जाय जिससे वे लोगों तक अपनी बात पहुंचा सके। आब्जेक्टिव लक्ष्य सभी को दिया जायेगा ताकि वे लोगों तक अपनी बात सरलता से पहुंचाये।
कलेक्टर ने कहा कि जिले में नशामुक्ति अभियान चलाया जा रहा है। रीवा जिले को नशा मुक्त भारत अभियान के तहत रीवा जिले का भी चयन किया गया है। नशा मुक्त अभियान सफलतापूर्वक संचालित करने के लिये अधिक नशा करने वाले क्षेत्रों का या किसी बस्ती का चयन कर नशा मुक्त अभियान प्रभावी तरीके से चलाया जायेगा। ज्ञान गंगा अभियान के अन्तर्गत स्वस्थ्य रहने के विभिन्न आयामों की जानकारी देते हुये डॉ. एचपी सिंह ने कहा कि यदि हमें सारी उम्र सक्रिय रहना है तो हमें पूर्णत: स्वस्थ्य रहना होगा। शरीर को न्यूट्रीशन, विटामिन, मिनरल के साथ प्रोटीन की भी आवश्यकता होती है। उसे लेना होगा। लोगों को स्वस्थ्य रहने के विभिन्न आयामों की जानकारी प्रभावी ढंग से देनी होगी। बैठक में जिला पंचायत सीईओ स्वप्निल वानखेड़े, डॉ. ज्योति सिंह, ममता नरेन्द्र सिंह, उच्च शिक्षा के अपर संचालक पंकज श्रीवास्तव सहित महाविद्यालयों के प्राचार्य उपस्थित थे।