प्रदेश कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग की बैठक संपन्न, भाजपा सरकार की मानसिकता दलित विरोधी – दिग्विजय सिंह

Scn news india

प्रदेश कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग की बैठक संपन्न।

भाजपा सरकार की मानसिकता दलित विरोधी…….. दिग्विजय सिंह

भाजपा सरकार में अनुसूचित जाति वर्ग के लोगों का भविष्य खतरे में है…… सुरेन्द्र चौधरी

प्रदेश कांगे्स अनुसूचित जाति विभाग की बैठक में उपस्थित पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजयसिंह ने कहा कि महात्मा गांधी जी ने बाबा साहेब डाॅ. भीमराव अंबेडकर के माध्यम से हजारों वर्षों का अन्याय और अत्याचार समाप्त करने का जो संविधान दिया वहीं हम लोगों के लिए गर्व की बात है और आज वही संविधान खतरे में है। उन्हांेने केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि यदि 2024 में भाजपा सरकार फिर से बनी तो ये मान लो कि भारतीय संविधान में परिवर्तन हो जायेगा। आज ये खतरा हम सब पर है। लोकतंत्र समाप्त हो जायेगा। पब्लिक सेंटर, रेल्वे, बैंकों सब का निजीकरण हो रहा है। देश में आज मुद्दों पर राजनीति नहीं होती। आज लड़ाई लड़ना है कांगे्रस को मुद्दों पर। आज शहरों के नाम बदले जा रहे हैं। हमारे राष्ट्रीय नेताओं के नाम पर बने चौराहों, स्टेडियम एवं तमाम जगहों के नाम बदले जा रहे हैं। भाजपा सरकार की मानसिकता दलित विरोधी है, अनुसूचित जाति विरोधी है धर्म के नाम पर इकठ्ठा कर आपका उपयोग करते हैं, इनसे हमें सचेत रहने की आवश्यकता है।


अभा कांगे्रस अनुसूचित जाति विभाग के संयोजक प्रदेश प्रभारी राजकुमार कटारिया ने मप्र कांगे्रस अनुसूचित जाति विभाग की सक्रियता और प्रदेश की भाजपा सरकार की दमनकारी नीतियों के खिलाफ चलाये गये कार्यक्रमों पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि कांगे्रस अनु. जाति विभाग ने पूरे प्रदेश में संगठन के माध्यम से कांगे्रस पार्टी को मजबूती प्रदान करने का काम किया है। उन्होंने कहा कि देश और प्रदेश में अनुसूचित जाति के लोगों पर हो रहे अन्याय और अत्याचार को हमसब को मिलकर समाप्त करने के लिए काम करने की आवश्यकता है।
प्रदेश कांगे्रस के कार्यकारी अध्यक्ष एवं अनु.जाति विभाग के अध्यक्ष सुरेन्द्र चौधरी ने उपस्थित पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि कांगे्रस अनुसूचित जाति विभाग की जिम्मेदारी मुझे पार्टी ने सौंपी हैं, मैंने पूरी निष्ठा और जिम्मेदारी के साथ अनुसूचित जाति वर्ग के लोगों की दशा और दिशा बदलने का भरसक प्रयास किया है, जो आज इस बैठक में बैठक हमारे मंचासीन पदाधिकारियों के सामने है। आज अनुसूचित जाति वर्ग का व्यक्ति प्रदेश की भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों से प्रताड़ित है। प्रदेश में अनुसूचित जाति वर्ग की अपेक्षा हो रही है। भाजपा सरकार में प्रदेश के विभिन्न जिलों में बाबा साहेब अम्बेडकर और महान नेताओं की प्रतिमाएं तोड़ने का काम भाजपा कर रही हैं। दलित, अनुसूचित जाति वर्ग को वंचित किया जा रहा है। आज हमारा भवष्यि खतरे में है। सत्ताधारी लोग लोकतंत्र की हत्या करने पर आमादा है। उन्होंने कहा कि मैं यहां बैठे लोगों से पूछना चहता हूं कि भाजपा ने हमें क्या दिया?


उन्होंने कहा कि हमें अपने भविष्य को सुरक्षित करने के लिए आज हमें संगठन को और अधिक मजबूत करने की आवश्यकता है। हमें अपनी लड़ाई लड़ने के लिए सजग रहना होगा। आगामी नगरीय निकाय चुनाव में ज्यादा से ज्यादा इस वर्ग के लोगांे को पूरी ताकत के साथ मैदान में आकर भाजपा के खिलाफ संघर्ष करना है और मंुहतोड़ जबाव देना है। पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार में अनुसूचित जाति वर्ग लोंगों पर अत्याचार की घटनाएं लगातार बड़ रही है, उनका शोषण हो रहा है। आज यहां आये अनुसूचित जाति वर्ग के प्रतिनिधियों से कहना चाहता हूं कि अपने हक के लिए मैदान में उतरकर लड़ाई लड़े और इस निरंकुश भाजपा सरकार की जल्द से जल्द प्रदेश से बिदाई करें। प्रदेश कांगे्स के उपाध्यक्ष एवं कोषाध्यक्ष प्रकाश जैन, पूर्व मंत्री विजयलक्ष्मी साधो, कांगे्रस पदाधिकारीगण डाॅ. महेन्द्र सिंह चौहान, गुरूचरण खरे, विधायकगण विपिन वानखेड़े, महेश परमार, मनोज चावला, सुरेश राजे, शिवदयाल बागरी, जिला पंचायत अध्यक्ष करण कुमारिया, डीके सुमन, सुनील बोरकर, विजय सिरवैया आदि ने भी बैठक को संबोधित किया।बैठक का संचालन संदीप सलौद ने किया तथा महेश नंद मेहर ने आभार व्यक्त किया।


इस अवसर पर इंजीनियर बी.डी. कोटिया, रवि राहुल वर्मा, अशरफ खान, प्रताप जाटव, अजय अहिरवार, डाॅ. देवेन्द्र सूर्यवंशी, खुमान सिंह, रमेश बामने, निर्मला सप्रे, वीरू लाहोरी, अनिता चौधरी, हेमंत नरवरिया, बिंदु सिंह, हेमलता चौधरी, राधेश्याम सोमतिया, विनोद मोरे, सुरेन्द्र करोसिया, श्रीधर सुमन, चतुभुर्ज धनोरिया, वीरू लाहौरी,धर्मेन्द्र खटीक, डाॅ. विनीत कुमार, सुमित पलासिया, इंजी. गोपाल सिंह, नरेन्द्र बिरलबाल,संदीप चौधरी सहित बड़ी संख्या में अनुसूचित जाति विभाग के पदाधिकारी एवं कांगे्रसजन उपस्थित थे।