केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने दवाओं से संबंधित 2020-21 से 2028-29 तक की अवधि की उत्‍पादन से जुड़ी प्रोत्‍साहन योजना को मंजूरी दी

Scn news india

केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने दवाओं से संबंधित 2020-21 से 2028-29 तक की अवधि की उत्‍पादन से जुड़ी प्रोत्‍साहन योजना को मंजूरी दे दी है। इससे घरेलू दवा निर्माताओं को फायदा होगा और रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। इससे उपभोक्‍ताओं को वाजि़ब दामों पर कई दवाएं उपलब्‍ध हो सकेंगी।

उत्‍पादन से जुड़ी प्रोत्‍साहन योजना से देश में महंगी दवाओं के उत्‍पादन और निर्यात को बढ़ावा मिलेगा। योजना से कुशल और अकुशल रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। अनुमान है कि औषधि क्षेत्र को बढ़ावा मिलने से रोजगार के बीस हजार प्रत्‍यक्ष और 80 हजार अप्रत्‍यक्ष अवसर उत्‍पन्‍न होंगे। इससे जटिल और उच्‍च टैक्‍नोलॉजी पर आधारित औषधियों के विकास में नवाचार को भी बढ़ावा मिलेगा और देश महत्‍वपूर्ण दवाओं के मामले में आत्‍मनिर्भर बनेगा। इससे देशवासियों को वाजि़ब दामों पर दवाएं और अन्‍य चिकित्‍सा उत्‍पाद उपलब्‍ध हो सकेंगे। योजना से देश के औषधि क्षेत्र में 15 हजार करोड़ रुपये का निवेश होने की भी संभावना है।

प्रोत्‍साहन से जुड़ी औषधि उत्‍पादन योजना देश में औषधि उद्योग के विकास की व्‍यापक योजना का हिस्‍सा है, जिसका उद्देश्‍य इस क्षेत्र में निवेश और उत्‍पादन बढ़ाकर भारत की दवा निर्माण क्षमता का विकास करना है।