कोरोना अलर्ट -बैतूल भोपाल सहित 10 जिले अतिसंवेदनशील,क्राइसिस की बैठक आज

Scn news india

मनोहर

भोपाल-कोरोना ने नए स्ट्रेन ने जहाँ कोरोना की वापसी की चिंता बढ़ाई है वही मध्यप्रदेश के पड़ौसी जिले में लगातार कोरोना संक्रमण के केस सामने आने से मध्यप्रदेश  सरकार भी अलर्ट मोड़ पर आ गई है। मंत्रालय में आज कोरोना की स्थिति की समीक्षा (Corona Review Meeting) के लिए  बैठक आयोजित की  गई  थी। जिसमे गृहमंत्रालय द्वारा सभी जिला कलेक्टरों को अनिवार्य निर्देश दिए गए हैं कि वे अपने जिलों में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप  की बैठक तत्काल आयोजित करें तथा जिला स्तर पर विद्यमान परिस्थितियों को देखते हुए आवश्यक सावधानी के संबंध में तत्काल निर्णय लें।

वही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि शिवरात्रि पर्व पर होने वाले मेलों के संबंध में सतर्कता और जागरूकता आवश्यक है। विशेषकर महाराष्ट्र से लगे जिलों में आयोजित होने वाले मेलों में सहभागिता के संबंध में आरटी पीसीआर के परीक्षण की अनिवार्यता पर भी विचार किया जाना चाहिये। बैठक में इंदौर और भोपाल से राज्य के अन्य भागों में होने वाले आवागमन पर सतर्कता के संबंध में भी विचार विमर्श हुआ। बता दे कि  राज्य सरकार के इस आदेश में प्रदेश के सीमावर्ती जिलों को अतिसंवेदनशील बताया गया है जिनमे -इंदौर ,भोपाल ,होशंगाबाद ,बैतूल ,सिवनी, छिंदवाड़ा,बालाघाट ,बड़वानी,खंडवा ,खरगौन ,बुरहानपुर और अलीराजपुर को दर्शाया गया है।