कोविड-19: नया वायरस स्ट्रेन महाराष्ट्र से लगे सीमावर्ती क्षेत्रों में लोगों के आने-जाने पर रखी जाएगी निगरानी

Scn news india

 

आशुतोष त्रिवेदी 

समूचे जिले में मास्क लगाना एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य होगा
महाराष्ट्र से आने वाले मार्गों के बैरियर पर लोगों से कोविड-19 एसओपी पालन कराया जाएगा
बैतूल-समीपवर्ती राज्य महाराष्ट्र से लोगों की आवाजाही को देखते हुए जिले में कोविड-19 नया वायरस स्ट्रेन के संक्रमण से बचाव के दृष्टिगत आवश्यक कदम उठाए गए हैं। जिसके तहत महाराष्ट्र राज्य से लगे सीमावर्ती ग्राम पंचायतों एवं नगरीय क्षेत्रों में महाराष्ट्र राज्य से आने वाले लोगों की निगरानी रखी जाएगी एवं उनकी जानकारी संकलित की जाएगी।
कलेक्टर श्री अमनबीर सिंह बैंस ने जिले के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में सार्वजनिक व भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर मास्क का अनिवार्य उपयोग तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किए जाने हेतु लोगों से अपील की है। उन्होंने कहा है कि जिन संस्थानों में कतार लगाकर कार्य होता है जैसे एटीएम, रेल्वे स्टेशन, बस स्टैण्ड जैसे स्थानों पर पूरी तरह से कोविड प्रोटोकॉल का पालन करवाया जाए तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाया जाए। जिन स्थानों पर कोविड प्रोटोकॉल का पालन नहीं होगा, वहां नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। महाराष्ट्र बॉर्डर पर आने वाले लोगों की जांच एवं निगरानी हेतु पूर्वानुसार परतवाड़ा रोड पर खोमई बैरियर, प्रभातपट्टन में गौनापुर बैरियर, मुलताई में खम्भारा टोल नाके तथा शाहपुर में धार नाके पर राजस्व, पुलिस एवं स्वास्थ्य विभाग के संयुक्त जांच दल की व्यवस्था की जाएगी। उक्त जांच दल जिले के अंदर आने वाले लोगों से कोविड के एसओपी का पालन कराएगा। साथ ही उल्लंघनकर्ताओं पर नियमानुसार जुर्माना इत्यादि की कार्रवाई सुनिश्चित करेगा।
ग्राम पंचायतों एवं सीमावर्ती नगरों में संबंधित कर्मचारियों द्वारा महाराष्ट्र से आने वाले व्यक्तियों की सूची का संधारण किया जाएगा। संदिग्ध मामलों की सूचना संबंधित बीएमओ को देना होगी। आवश्यकतानुसार होम आइसोलेशन भी कराया जाएगा। होम आइसोलेशन का उल्लंघन करने वालों की सूचना इंसिडेन्ट कमाण्डर को दी जाएगी।
आगामी शिवरात्रि व अन्य त्यौहारों में लगने वाले मेलों में कोविड संक्रमण रोकने हेतु एसओपी का कड़ाई से पालन कराया जाएगा।
संयुक्त कलेक्टर श्री राजीव रंजन पाण्डेय संबंधित क्षेत्र के इंसिडेंट कमाण्डर से अपने-अपने क्षेत्र में की गई कार्रवाई का प्रतिदिन विवरण संकलित करेंगे।