गणतंत्र दिवस समारोह में झांकियों ने बिखेरी विकास की अनुपम किरणे

Scn news india

कामता तिवारी
संभागीय ब्यूरो रीवा
Scn news india

रीवा- रीवा में एसएएफ मैदान में आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह में प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ध्वजारोहण करके परेड की सलामी ली। समारोह में विभिन्न विभागों द्वारा आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश तथा प्रदेश के विकास को प्रदर्शित करती हुई मनोहारी झांकियां प्रस्तुत की गर्इं। झांकियों ने समारोह में प्रदेश और रीवा जिले की ऐतिहासिक विरासत तथा विकास की अनुपम किरणें बिखेरी।
समारोह में सबसे पहले एक जिला एक पहचान के रूप में उद्योग विभाग की सुपारी कलाकृतियों की झांकी प्रस्तुत की गई। मुख्यमंत्री ने अपने गणतंत्र दिवस संबोधन में भी रीवा के कारीगरों की सुपारी कला का उल्लेख किया था। झांकी में सुपारी से बने मनोहारी गणेश प्रस्तुत किये गये। कुशल कारीगरों ने मुख्यमंत्री जी को सुपारी के गणेश भेंट किये। मुख्यमंत्री जी ने झांकी की प्रशंसा की। इसके बाद ई गवर्नेंस तथा उद्योग विभाग की आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश पर केन्द्रित झांकी प्रस्तुत की गई। इसमें रीवा जिले के विकास के प्रतीक बाणसागर बांध, सुपर स्पेशिलिटी हास्पिटल तथा अन्य उपलब्धियों को दर्शाया गया। नगर निगम की झांकी में स्वच्छता अभियान तथा ठोस अपशिष्ट प्रबंधन को दर्शाया गया।
जिला पंचायत की मनोहारी झांकी ने सबका ध्यान आकर्षित किया। इसमें प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना तथा ग्रामीण आजाविका मिशन से सशक्त होती महिलाओं को दर्शाया गया। झांकी में गांव के विकास के अन्य आयामों को भी प्रदर्शित किया गया। पुलिस विभाग की रोचक झांकी में नशे के सौदागरों पर कार्यवाही, मुस्कान अभियान में बेटियों को खोज कर घर पहुंचाने तथा महिला अपराधों की रोकथाम के प्रयासों को दिखाया गया। केन्द्रीय जेल की आकर्षक झांकी में नारी सम्मान तथा हथकरघा से स्वरोजगार का प्रदर्शन किया गया। वन विभाग की झांकी में पर्यावरण संरक्षण के प्रतिनिधि मोगली तथा कृषि विभाग की झांकी में उन्नत खेती एवं ई-उपार्जन को प्रदर्शित किया गया। स्वास्थ्य विभाग की झांकी में कोरोना संक्रमण से बचाव तथा टीकाकरण को दर्शाया गया। जल संसाधन विभाग की झांकी में बाणसागर बांध से विन्ध्य में आयी कृषि समृद्धि तथा हाउसिंग बोर्ड की झांकी में निर्माणाधीन बीहर रिवर फ्रंट तथा पुनर्घनत्वीकरण योजना के कार्यों को दर्शाया गया।
गणतंत्र दिवस की झांकियों में सबसे आकर्षक झांकी महिला एवं बाल विकास विभाग की रही। कन्या के जन्म पर उत्सव, कन्या पूजन, महिला स्वरोजगार तथा शौर्यादल को इसमें प्रदर्शित किया गया। मुख्यमंत्री जी ने झांकी की सराहना की तथा झांकी में शामिल नन्हीं परियों को दुलार दिया। समारोह में सौर ऊर्जा विभाग की झांकी ने रीवा की शान बदवार सौर ऊर्जा परियोजना को प्रदर्शित किया। उद्यानिकी विभाग की झांकी में एक जिला एक उत्पाद में शामिल सुंदरजा आम तथा फूलों की खेती को प्रदर्शित किया गया। समारोह में पशुपालन विभाग की झांकी में बसामन मामा गौ अभ्यारण्य को प्रस्तुत किया गया। समारोह में शिक्षा विभाग, पीएचई विभाग, जल निगम, मछलीपालन विभाग तथा आदिमजाति कल्याण विभाग की भी झांकियां प्रस्तुत की गर्इं।