नवजात शिशु की जान बचाने छिंदवाड़ा पहुंचकर किया रक्तदान

Scn news india


जनसेवा कल्याण समिति की सराहनीय पहल
दिलीप पाल
आमला। रक्तदान से बढ़ा कोई दान नहीं होता, इसे चरितार्थ करते हुए जनसेवा कल्याण समिति द्वारा पिछले कई वर्षो से कार्य किया जा रहा है। जहां भी जरूरतमंद को रक्त की आवश्यकता हो, समिति सदस्य पहुंचकर जीवन बचाने का प्रयास करती आ रही है। इसी दिशा में बुधवार दोपहर आमला के रामानंद बेले शिक्षक को जानकारी मिली कि छिन्दवाड़ा के मलिक हॉस्पिटल में 5 दिन के नवजात शिशु को 3 यूनिट ओ पॉजिटिव की आवश्यकता है। श्री बेले ने जनसेवा कल्याण समिति से सहयोग करने की अपील की। तत्काल श्री बेले के साथ समिति के पंकज उसरेठे, नितिन ठाकुर, केशव रुक्मांगत, छिन्दवाड़ा रवाना हुआ और रात्रि 11 बजे ब्लड बैंक छिन्दवाड़ा पहुँचकर रामानन्द बेले, नितिन ठाकुर, केशव रुक्मांगत ने रक्तदान किया एवं 3 यूनिट ब्लड की व्यवस्था की। ब्लड आर्मी ग्रुप छिन्दवाड़ा के तरुण सूर्यवंशी द्वारा भी समिति के आग्रह पर1 यूनिट की व्यवस्था की गयी। गौरबतलब है कि जनसेवा कल्याण समिति द्वारा लगातार पिछले कई वर्षों से रक्तदान जागरूकता के लिए कार्य किया जा रहा है। कई लोगो की जान बचाने में समिति की मुख्य भूमिका रही है। समिति के रामानन्द बेले ने बताया कि पीडित परिवार ने तत्काल ब्लड की मांग की थी। बिना देरी किये छिन्दवाड़ा पहुँचकर रक्तदान का फैसला किया। समिति के नितिन ठाकुर ने बताया कि हर समय जरूरतमन्दों की मदद के लिये तैयार रहते है। हमारा उद्देश्य है कि ब्लड की कमी से किसी भी व्यक्ति की मौत न हो। समिति के इन सराहनीय कार्यो की वजह से ही वर्तमान में समिति को शहर की लाइफलाइन कहा जाता है।