कोरोना टीकाकरण अभियान का समारोह पूर्वक हुआ शुभारंभ सफाई कर्मियों को लगा प्रथम टीका

Scn news india

डॉक्टर्स व मेडिकल स्टाफ ने लगवाई कोरोना वैक्सीन

कामता तिवारी
संभागीय ब्यूरो रीवा
Scn news india

रीवा – कोरोना से बचाव के लिये भारत में विश्व के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान का आज शुभारंभ हुआ। रीवा जिले के 8 केन्द्रों में टीकाकरण अभियान का आरंभ हुआ। जिला मुख्यालय के संजय गांधी अस्पताल में बनाये गये टीकाकरण केन्द्र में प्रात: 10.30 बजे समारोह पूर्वक कोरोना टीकाकरण अभियान का शुभारंभ हुआ। कोरोना संकट में अपने प्राणों को संकट में डालकर प्रतिदिन सफाई करने वाले सफाई कर्मी इन्द्रजीत बकसरिया एवं उपेन्द्र भण्डारी को कोरोना वैक्सीन का प्रथम टीका लगाया गया। इसके उपरांत मेडिकल कालेज के डीन डॉ. मनोज इंदुलकर व अधीक्षक डॉ. शशिधर गर्ग ने टीका लगवाया। कुशाभाऊ ठाकरे जिला अस्पताल के कोरोना टीकाकरण केन्द्र में सीएमएचओ डॉ. एमएल गुप्ता ने पहला टीका लगवाया। टीकाकरण अभियान के शुभारंभ अवसर पर सांसद जनार्दन मिश्र, पूर्व मंत्री एवं रीवा विधायक राजेन्द्र शुक्ल, कलेक्टर इलैयाराजा टी व आयुक्त नगर पालिक निगम मृणाल मीणा उपस्थित रहे।
श्यामशाह मेडिकल कालेज के संजय गांधी अस्पताल के टीकाकरण केन्द्र में टीकाकरण अभियान के शुभारंभ अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ऑनलाइन वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से सम्बोधित करते हुए कहा कि कोरोना वैक्सीन का टीका उन व्यक्तियों को सबसे पहले लगाया जा रहा है जिनमें संक्रमण की संभावना अधिक है। भारत के वैज्ञानिकों ने टीका बनाकर बड़ी सौगात दी है जो विश्व में सबसे सस्ता व अनुकूल टीका है। यह मेड इन इण्डिया अभियान के लिये एक उपलब्धि भी है। उन्होंने कहा कि कोरोना से निर्णायक जीत में यह टीका कारगर होगा तथा आत्मविश्वास व आत्मनिर्भरता बढ़ायेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि टीकाकरण अभियान उन लोगों के लिये आदरांजलि भी है जो संक्रमण काल में हमें छोड़कर चले गये। श्री मोदी ने बताया कि यह अभियान अनवरत चलेगा क्योंकि जन-जन का जीवन बचाना है। उन्होंने टीकाकरण के बाद लोगों से दवाई भी और कड़ाई भी का मंत्र पालन करने की अपेक्षा करते हुए मास्क लगाने, दो गज की दूरी रखने सहित सावधानी बरतने की बात कही। उन्होंने देश व मानवता को वैक्सीन देने वाले वैज्ञानिकों व इससे जुड़े व्यक्तियों को बधाई देते हुए टीकाकरण अभियान में संलग्न लोगों को शुभकामनाएं दीं। प्रधानमंत्री ने रिमोट का बटन दबाकर भारत में विश्व के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान का विधिवत शुभारंभ किया।
संजय गांधी अस्पताल के टीकाकरण केन्द्र में सांसद जनार्दन मिश्र ने दोनों सफाई कर्मियों का माला पहनाकर उत्साहवर्धन किया। उन्होंने अभियान से जुड़े लोगों को बधाई दी तथा अपेक्षा की कि जिस तरह कोरोना संक्रमण काल में सभी ने निष्ठा से कार्य किया वह अनवरत जारी रहेगा। उन्होंने जिला प्रशासन की कोरोना से मुक्ति के लिये किये गये कार्यों की प्रशंसा की। इस अवसर पर टीकाकरण के नोडल अधिकारी डॉ. दीपक द्विवेदी ने बताया कि डॉक्टर्स, नर्स, सफाई कर्मियों को प्रथम चरण में टीका लगाया जायेगा। टीका लगाने के उपरांत व्यक्ति को आधे घंटे निगरानी में रखा जायेगा। यह टीका पूर्णत: सुरक्षित व स्वास्थ्य के अनुकूल है। एक बार टीका लगाने के बाद 28 दिन के अंतर में वैक्सीन की दूसरी डोज दी जायेगी। एक व्यक्ति को 0.5 एमएल का टीका लगाया जाता है।
टीकाकरण केन्द्र में वैक्सीनेशन से पूर्व प्रतीक्षा कक्ष में व्यक्तियों को बिठाया गया था। तदुपरांत पंजीकृत व्यक्तियों के मोबाइल पर आये मैसेज के आधार पर कोविशील्ड वैक्सीन लगाई गई। टीकाकरण अभियान के शुभारंभ अवसर पर डॉ. पीके बघेल, डॉ. सुधाकर द्विवेदी, डॉ. यत्नेश त्रिपाठी, डॉ. राजनारायण, डॉ. केशव सिंह सहित मेडिकल का स्टाफ व विद्यार्थी उपस्थित रहे। कुशाभाऊ ठाकरे जिला चिकित्सालय में बनाये गये टीकाकरण केन्द्र में सीएमएचओ के अतिरिक्त डॉ. एनएन मिश्रा, डॉ. केके परौहा, डॉ. नंदिनी पाठक, डॉ. राजकुमार मिश्रा, डॉ. आनंद चौबे, डॉ. आरएस पाण्डेय, डॉ. संजीव शुक्ला, डॉ. शकुंतला पाण्डेय एवं डॉ. मंजुल पाण्डेय को टीका लगाया गया। जिला अस्पताल में टीकाकरण सप्ताह में चार दिन होगा। मंगलवार, शुक्रवार व रविवार को टीका नहीं लगेगा।