फिर कुख्यात बदमाश नफीश अदालत उर्फ मुर्गी पर चला अतिक्रमण का डंडा

Scn news india

मनोहर

एमपी नगर संभाग के कुख्यात बदमाश नफीश अदालत उर्फ मुर्गी, जकीर, अख्तर एँव लल्लु उर्फ रईस द्वारा अवैध रूप से अर्जित किये गये धन से किये गये करोड़ो रूपये के अवैध निर्माण को प्रशासन द्वारा किया गया ध्वस्त

थाना अशोकागार्डन क्षेत्र के आद्तन अपराधी कुख्यात निगरानी बदमाश अख्तर पिता अ. रसीद जो कि वर्तमान में रा.सु.का , चोरी एंव अन्य प्रकरणों में जेल में निरूध्द हैं जिसके विरूध्द कुल 75 प्रकरण पंजीबध्द हैं ।

बदमाश द्वारा अपराध को जीविका का साधन बनाकर अवैध रूप से अर्जित किये गये धन से मुख्य मार्ग भोपाल रायसेन रोड पर विधुत कालोनी के बाहर बनाये गये व्यावसायिक दुकान जिसमें चोरी के माल को रखकर चोरी के माल को खरीदने बचने का काम करता था । प्रशासन द्वारा 20*20 का मुख्य मार्ग पर 25 लाख रूपये के अवैध निर्माण को ध्वस्त किया गया ।

कुख्यात बदमाश अख्तर पिता अ. रसीद के सगे भाई लल्लु उर्फ रईस पिता अ. रसीद जिसके विरूध्द कुल 84 प्रकरण पंजीबध्द हैं। बदमाश जुँआ सट्टा खिलाने का आद्तन अपराधी होकर थाने का निगरानी बदमाश हैं इसके द्वारा औद्योगिक क्षेत्र में मारूती रिपेयरिंग शॉप के स्वामित्व की बहुमुल्य भूमि पर अवैध रूप से व्यावसायिक दुकान रखकर अवैध कब्जा किया था । प्रशासन द्वारा 5 लाख रूपये के अवैध निर्माण को ध्वस्त किया गया ।
इसके साथ ही प्रशासन की कार्यवाही यहीं नही रूकी , आगे बढते हुये थाना एमपी नगर जोन1 क्षेत्र जहां पर बड़े बड़े शासकीय भवन है के बीचों बीच थाना हाजा के कुख्यात गुण्डा बदमाश नफीस उर्फ अदालत पिता अ. वसीम जिसके विरूध्द अवैध रूप से जुँआ, सट्टा खिलवाने के लगभग 25 अपराध पंजीबध्द हैं। जिसके द्वारा अपराध को जीविका का साधन बनाकर अवैध रूप से अर्जित किये गये धन से पॉश इलाका जहां बड़े बड़े शासकीय भवन है के बीचों बीच किये गये करोड़ो रूपये की भूमि पर अवैध कब्जा कर किये गये अवैध निर्माण को प्रशासन द्वारा ध्वस्त किया गया ।

साथ ही कुछ दूरी पर गुण्डा बदमाश जाकिर पिता साकिर जिसका जिला बदर किया जो चुका हैं के द्वारा किये गये अवैध निर्माण को नगरीय निकाय , अवैध अतिक्रमण दस्ता , राजस्व विभाग के अधिकारीयो द्वारा पुलिस प्रशासन के सहयोग से ध्वस्त किया गया ।

प्रशासन की कार्यवाही के दौरान गुण्डा बदमाश नफीस उर्फ अदालत के विरूध्द अवैध शस्त्र रखने एँव एक व्यक्ति अमन के विरूध्द शांति व्यवस्था भंग करने पर प्रतिवंधात्मक कार्यवाही की गयी।