हमारी मातृ शक्तियां हमारी आदर्श और प्रेरणा स्त्रोत रहीं-विधायक पीएल तंतुवाय

Scn news india
दमोह -हमारी मातृ शक्तियां हमारी आदर्श और प्रेरणा स्त्रोत रहीं है, उनको नमन एवं याद करने के लिए, उनके द्वारा किये हुये कर्तव्यो को अपने जीवन मे उतराने के लिए हम सब आज यहा एकठ्ठे हुये है। यही हमारे महापुरूषो के प्रति एक सच्ची श्रंद्धाजलि है, हम उनके किये हुये कार्यों को अपने जीवन मे उतारें, प्रेरणा स्त्रोत झलकारी बाई मातृशक्ति रही है आज भी हमारे समाज मे मातृशक्ति यदि आगे बढ़कर घर समाज और देश के निर्माण मे सहयोगी होती है, तो निश्चित रूप से इस देश को विश्व गुरू बनाने मे सहायता मिलेगी और हमारे देश को विश्व गुरू बनने से कोई रोक नही पायेगा। इस आशय के विचार आज वीरांगना झलकारी बाई कोरी की 189 वीं जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में विधायक हटा पीएल तंतुवाय ने व्यक्त किये। इस मौके पर नगर पालिका अध्यक्ष मालती असाटी, लघु वनोपज संघ के पूर्व अध्यक्ष महेश कोरी, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष पं. मनु मिश्रा, रामकली तंतुवाय, गोपी मासाब, दामोदर तंतुवाय, कार्यक्रम अध्यक्ष प्रेमलाल कोरी चूड़ीवाले, डीपी कठल, पूरनलाल कोरी, वाईए कुरैशी, बीडी बावरा मंचासीन थे।

उन्होने कहा हमें महापुरूषो के उदगारों एवं विचारों को अपनाना चाहिए, जब तक यह संसार रहेगा उनके विचार हमेशा आकाट्य ही रहेगें और हमेशा मानव जगत का विकास करते रहेंगे। उन्होंने कहा मातृशक्ति से मेरा आशय समाज, देश एवं स्वयं की कुरूतियो को समाप्त करने मे अपना योगदान अवश्य देना, आप सभी मातृशक्तियां ही है जो ये सब कर सकती है।
लघु वनोपज संघ के पूर्व अध्यक्ष महेश कोरी ने कहा उन्होने कहा समाज को बहुत गर्व है कि देश के सर्वोच्च पद पर माननीय राष्ट्रपति जी कार्यरत है, जिनके कारण आज पूरे देश की ही नहीं बल्कि विश्व की जनता कोरी समाज को जानती है, हमें आज हर्ष हो रहा है कि हमारी दमोह समिति के द्वारा आज इतना विशाल कार्यक्रम आयोजित किया, उन्हे साधुवाद।


उन्होंने कहा हमे अपने समाज को नशा मुक्त करने की जरूरत और शिक्षा के क्षेत्र मे आगे बढ़ाने की जरूरत है। हमे अपने बच्चो को शिक्षा के क्षेत्र मे आगे बढ़ाना बहुत जरूरी है, जब हमारी समाज पूर्ण शिक्षित हो जायेगी, तो हमारी समाज अन्य समाजों से भी आगे निकल जायेगी। उन्होंने कहा मैने देखा है पिछले बर्षो मे छोटे-छोटे कार्यक्रम समाज के होते थे लेकिन आज स्थिति यह है कि विशाल कार्यक्रम आयोजित किये जाते है, अन्य समाज के कार्यक्रमों से हमारे समाज के कार्यक्रम और अच्छे होने लगे, इससे यह प्रतीत होता है, कि हमारी समाज आगे बढने की दिशा मे काम कर रही है, आगे बढ रही है, जिससे समाज को इस प्रकार के कार्यक्रमो से सीखने को मिलती है कि समाज मे यदि कोई कुरूतिया है तो वह धीरे-धीरे दूर हो रही हैं।

नगर पालिका अध्यक्ष मालती असाटी ने कहा महिलाओ का सम्मान सदैव होता रहा है आज मातृशक्ति की उपस्थिति दर्शाती है कि वे कितनी जागरूक है, समाज के लिए एक संदेश जाता है, कि हमारे समाज के पूर्वजो ने क्या दिया है, क्या किया है, जिससे आज की पीढी यह समझ सके कि समाज के साथ काम करने से क्या होता है। कोरी समाज एवं अन्य समाजो से बीच से निकल कर हमारे देश की लडाई लड़कर वीर गति को प्राप्त हुई उन्हे याद करके उनको नमन कर उनकी जयंती मनाते है। उन्होने कहा समाज हमेशा से उत्थान के लिए कार्य करता है, शिक्षा के क्षेत्र मे हमें और आगे आना होगा। इस तरह के कार्यक्रम से हम सबका मनोबल बढता है, महिलाए गृहणी होने के साथ हर कार्य को गंभीरता पूर्वक करती है। उन्होंने ऐसी मातृशक्ति नमन किया।
पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष पंडित मनु मिश्रा ने कहा पिछले कई वर्षो से समाज शोभायात्रा आयोजित कर जयंती मनाती आ रही है, आज समाज ने मानस भवन में कार्यक्रम आयोजित किया, झलकारी बाई यह एक ऐसा नाम है जो स्वतंत्रता के आंदोलन मे रानी लक्ष्मी बाई के कंधे से कंधा मिला कर लडाई लडी और अग्रेजों के छक्को छुडा दिये। उन्होने जो लडाई लडी उसके लिए पूरा राष्ट्र उनको नमन करता है, यह बहुत बडी बात है। हम सब उनके इस कार्यो से प्रेरणा ले। समाज के उत्थान के लिए निरंतर प्रयास करते रहे। जो समाज के पिछडे लोग है उन्हे आगे बढाने एवं जीवन स्तर को उठाने का प्रयास करें।
उन्होने कहा वरिष्ठ लोगो को समाज के युवाओ को नशा मुक्त करने का प्रयास करना चाहिए ,जिससे समाज तरक्की हो, आज यहां बुजुर्गो का सम्मान किया गया जिससे युवाओ को सीखना चाहिए कि हमे हमारी विरासत को संस्कृति का संभाल कर रखना चाहिए।

जिला प्रशासन की ओर से उपस्थित वाईए कुरैशी ने कहा मुझे बहुत खुशी है कि आज मुझे समाज के इतने बडे कार्यक्रम मे शामिल होने का मौका मिला, मेरा इस समाज से मेलजोल लगातार बना रहता है, बहुत से कार्यक्रम मे शामिल होता रहता हूँ। समाज के लोग बहुत उचे पदो पर कार्यरत है। उन्होंने कहा सरकार आपके हितो के लिए बहुत सारी योजनाएं चला रही है जिनका आपको लाभ उठाकर आगे बढना होगा,  समाज को शिक्षित करना होगा। अगर एक बेटी शिक्षित होती है तो पूरा परिवार शिक्षित होता है, मेरा सभी मातृशक्ति से आग्रह है, अपने बेटी-बेटा को शिक्षित करें। समाज के लोगो से कहना चाहता हूँ कि नशा से दूर रहे अपने बच्चो के भविष्य के बारे मे सोचते हुये यह सकंल्प ले क्योकि संकल्प मे विकल्प नही होता है।
इस मौके पर संविधान रचेयता डॉ भीमराव अम्बेडकर की मूर्ति पर माल्यापर्ण किया गया। वीरांगना झलकारी बाई के चित्र समक्ष दीप प्रज्ज्वलित और माल्यापर्ण कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। समाज के दो वरिष्ठजनों का शाल श्रीफल से सम्मान किया गया।
कार्यक्रम में कीर्ति कोरी, याचना कोरी, मुस्कान कोरी, माधवी कटहरे, हर्षवर्धन कोरी, आकाश तंतुवाय, रोशनी कोरी, शिवानी कोरी, डाली कटहरे, पूनम कोरी, गगन तंतुवाय सहित अन्य प्रतिभागियों को अतिथियों द्वारा पुरूस्कार वितरित किये गये। इस मौके पर बच्चों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये गये, जिन्हें उपस्थित जनों से सराहा। कार्यक्रम का संचालन विपिन चौबे द्वारा किया गया और आभार प्रदर्शन अखिल भारतीय कोरी समाज संगठन जिला शाखा दमोह के पूर्व अध्यक्ष वाई के कोरी द्वारा व्यक्त किया गया।
इस मौके पर इन्द्र कुमार कोरी, लखन तंतुवाय, दीपचंद कोरी, महेश कोरी, विनोद कोरी, प्रेमलाल कोरी, दीपक कोरी, डैनी कोरी, निर्भय कोरी, प्रकाश कोरी, विकास कोरी, सीएल कबीरपंथी, विकास कोरी, सुरेन्द्र कठहरे, माधव कोरी, श्रीकांत तंतुवाय, नरेन्द्र कोरी, नरेन्द्र तंतुवाय, प्रेमलाल कोरी मिस्त्री, सुंदर कोरी धरमपुरा, तुलसीराम कोरी, नंदू कोरी, मुकेश कोरी खजरी, अनिल कोरी (मोनू),नवीन कोरी, मनोज कोरी, विक्रम कोरी, जबेरा से खरगराम कोरी, अरूण, कुलदीप, शेखर, नामदेव, नरेन्द्र, अरविंद, बिहारी कोरी, मुन्नलाल, घनश्याम, भूपेन्द्र कोरी, हल्केभाई, आनंद, हेमेन्द्र कोरी, संतोष, नारायण कोरी, संतोष कोरी, पटेरा से मोतीलाल, मनोज, अशोक कोरी, फुटेरा से ब्रजभूषण, जगदीश, मंजू, जैतपुर से पुनेश, नोनेलाल, मोतीलाल, कंचन, दुर्गा, अंजना, हरीबाई, भवानी बाई, श्र्द्धा कोरी, कल्याणी, मनीषा, प्रेमबाई, रमा, प्रभा, पुष्पा, रेखा, बबीता, रागिनी, पूजा, अर्चना, रम्मो, तुलसाबाई, यशोदा, मानबाई सहित बड़ी संख्या में समाज के नागरिकगण और महिलायें मौजूद थीं।

आयुष विभाग ने लगाया शिविर 97 का हुआ स्वास्थ्य परीक्षण

वीरांगना झलकारी बाई की 189 वीं जयंती पर स्थानीय मानस भवन में आयोजित कार्यक्रम के दौरान जिला आयुष अधिकारी आईके कुर्मी के नेतृत्व में आयोजित चिकित्सा शिविर में 97 नागरिकों ने स्वास्थ्य परीक्षण कराकर स्वास्थ्य लाभ लिया। शिविर में डॉ अनुराग कुमार, अरविंद असाटी, चित्रेश गर्ग एवं सौरभ सिंह उपस्थित थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

All rights reserved by "scn news india" copyright' -2007 -2019 - (Registerd-MP08D0011464/63122/2019/WEB)  Toll free No -07097298142
error: Content is protected !!