सोलर लेम्प और सोलर दीपक बनाएंगी स्व सहायता समूह की महिलाएँ

Scn news india

बैतूल से हर्षिता वंत्रप की रिपोर्ट 

  • सोलर लेम्प और सोलर दीपक बनाएंगी स्व सहायता समूह की महिलाएँ
  • सोलर ग्राम ‘बाचा’ पहुंची सोलर एनर्जी स्वराज यात्रा
  • सोलर कुकिंग सिस्टम के उपयोग से खुश हैं गांव की महिलाएं

सोलर एनर्जी स्वराज यात्रा जिले के सोलर ग्राम बाचा में पहुँची

बैतूल-सोलर एनर्जी स्वराज यात्रा शुक्रवार को जिले के सोलर ग्राम बाचा में पहुँची। यहां सोलर मेन आईआईटी मुम्बई के डॉ. चेतन सिंह सोलंकी ने चौपाल बैठक में ग्राम में लगाए गए सोलर कुकिंग सिस्टम के बारे में ग्रामवासियों से चर्चा की। ग्राम की महिलाओं ने बताया कि सोलर कुकर से उन्हें खाना बनाने में बहुत सुविधा हुई है तथा अब जंगल से लकड़ी लाना नहीं पड़ती।
बता दे कि सोलर मेन के नाम से मशहूर डॉ. चेतन सिंह सोलंकी ने भोपाल से अपनी यात्रा की शुरुआत की है जिन्होंने  पर्यावरण को बचाने और कार्बन उत्सर्जन को कम करने व् सौर ऊर्जा को जन-जन तक पहुंचाने के लिए जन जागरण कर सोलर बस में 2030 तक घर न जाने का व्रतलिया है।  इस दौरान वे   पूरे भारत और अन्य देशों के भ्रमण पर रहेंगे।

वहीँ श्री सिंह ने  सोलर ग्राम के नाम से  प्रसिद्ध बैतूल जिले का आदिवासी ग्राम बाच्चा में स्व सहायता समूह की महिलाओं से भी मुलाकात की। जिन्हे भविष्य में सोलर लेम्प और सोलर दीपक बनाने का प्रशिक्षण भी  दिया जायेगा। इस दौरान ग्राम को आदर्श बनाने में महत्वपूर्ण योगदान देने वाले श्री मोहन नागर आजीविका मिशन के अधिकारी एवं घोड़ाडोंगरी से श्री दीपक उईके, सरपंचगण श्री कमलेश परते श्री राजेंद्र कवड़े, सचिव श्री संजीव नामदेव एवं महिला स्व सहायता समूह सहित ग्रामीण जन उपस्थित रहे।