एक अरब से अधिक मोबाइल फोन और 75 करोड़ इंटरनेट उपयोगकर्ता है भारत में -पीएम मोदी

Scn news india

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि देश की डिजिटल क्षमता अपार है। उन्‍होंने कहा कि कोविड महामारी के दौरान मोबाइल प्रौद्योगिकी के माध्य‍म से समाज के गरीब और कमजोर वर्गों को मदद प्रदान की गई। उन्होंने कहा कि भारत मोबाइल तकनीक की मदद से दुनिया का सबसे बड़ा कोविड टीकाकरण अभियान शुरू करेगा।

इंडिया मोबाइल कांग्रेस के चौथे संस्करण को आज संबोधित करते हुए, श्री मोदी ने कहा कि मोबाइल तकनीक की मदद से लाखों भारतीयों को करोड़ों डॉलर का लाभ हुआ है। उन्‍होंने कहा कि इस तकनीक की मदद से करोड़ों नकदी रहित लेनदेन सम्‍भव हुए। इस अवसर पर प्रधान मंत्री ने भारत को दूरसंचार उपकरणों के डिजाइन और उत्‍पादन का वैश्विक केन्‍द्र बनाने का आह्वान किया। उन्होंने फाइव-जी प्रणाली को समयबद्ध तरीके से हासिल करने के लिए सभी से मिलकर काम करने का आग्रह किया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत ने मोबाइल फोन के उत्‍पादन में बहुत सफलता हासिल की है और देश इसके एक मुख्‍य केन्द्र के रूप में उभर रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार की उत्पादन से जुड़ी प्रोत्‍साहन योजना से दूरसंचार क्षेत्र को प्रोत्साहन मिलेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार अगले तीन वर्षों में हर गांव में हाई स्पीड फाइबर ऑप्टिक केबल कनेक्टिविटी प्रदान करने की दिशा में काम कर रही है।

मोबाइल और इंटरनेट संपर्क के क्षेत्र में प्रगति की सराहना करते हुए श्री मोदी ने कहा कि देश में इस समय एक अरब से अधिक मोबाइल फोन और 75 करोड़ इंटरनेट उपयोगकर्ता हैं। उन्होंने कहा कि कुल इंटरनेट उपयोगकर्ताओं में से आधे पिछले चार वर्षों के दौरान जुड़े हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत की डिजिटल सम्‍भावनाएं असीमित हैं और हमें इस बारे में योजना बनानी होगी कि हम आगामी प्रौद्योगिकी क्रांति का कैसे बेहतर इस्‍तेमाल करें। उन्होंने कहा कि बेहतर स्वास्थ्य देखभाल, बेहतर शिक्षा और किसानों और छोटे व्यवसाइयों के लिए बेहतर बाजार उपलब्ध कराना कुछ ऐसे लक्ष्य हैं जिन्हें डिजिटल तकनीक की मदद से हासिल किया जा सकता है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश की कनेक्टिविटी में तेजी से सुधार हो रहा है, लेकिन इसने हाल ही में गति पकड़ी है। उन्होंने कहा कि युवा वैज्ञानिक ऐसे कई उत्पादों पर काम कर रहे हैं जिनमें वैश्विक स्तर हासिल किया जा सकता है। उन्होंने 5 जी प्रौद्योगिकी को समय पर हासिल करने के लिए सबसे मिलकर काम करने का आग्रह किया।