सीएमएचओ ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र घोड़ाडोंगरी का निरीक्षण किया जिला चिकित्सालय में अनावश्यक प्रसव रैफर की समीक्षा एवं कार्यवाही

Scn news india

प्रवीण मलैया 

बैतूल-स्वास्थ्य विभाग द्वारा 2 दिसम्बर को बैतूल में जिले के पांच विकासखंडों की प्रसव संबंधी समीक्षा बैठक आयोजित की गई, जिसमें मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रदीप कुमार धाकड़ द्वारा समीक्षा की गई। समीक्षा में जो प्रसव सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र स्तर पर किये जाना थे, उन्हें जिला अस्पताल रैफर किये जाने के संबंध में व्यापक चर्चा की गई।
समीक्षा उपरांत दोपहर पश्चात् सीएमएचओ डॉ. धाकड़ की अध्यक्षता में जिला टीकाकरण अधिकारी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक एवं जिला कम्युनिटी मोबेलाईजर के दल द्वारा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र घोड़ाडोंगरी का निरीक्षण किया गया, जिसमें स्वास्थ्य केन्द्र में व्याप्त अनियमितताओं की व्यापक समीक्षा की गई। समस्त स्टॉफ नर्सेस के प्रसव रिकार्ड का निरीक्षण किया गया, जिसमें कई त्रुटियां पाई गईं जिनके सुधार किये जाने एवं अग्रिम कार्यवाही हेतु सख्त निर्देश दिये गये।

सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में खंड चिकित्सा अधिकारी के मौखिक निर्देशानुसार निकट के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र की स्टॉफ नर्सेस का संलग्नीकरण बिना मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के आदेशानुसार किया गया, जो पूर्ण रूप से नियम विरूद्ध पाया गया। डॉ. धाकड़ द्वारा सभी ऐसे कर्मचारियों को मूल पदस्थापना स्थल पर कार्य करने हेतु निर्देशित किया गया, साथ ही खंड चिकित्सा अधिकारी को स्पष्टीकरण जारी किया गया। निरीक्षण के दौरान सफाई एवं सुरक्षाकर्मी निर्धारित गणवेश में नहीं थे, जिसके लिये उनको हटाने की कार्यवाही की गई। पैथोलॉजी लेब में पदस्थ लेब टेक्नीशियन के निर्धारित गणवेश में न होने से एक दिवस का वेतन काटने के निर्देश दिये गये। उपस्थिति पंजी के निरीक्षण के उपरांत अनाधिकृत रूप से अनुपस्थित कर्मचारियों के विरूद्ध नोटिस जारी किये गये। प्रभारी खंड चिकित्सा अधिकारी डॉ. जितेन्द्र सिंह को आपसी सामंजस्य बनाकर शासकीय कार्य करने के निर्देश दिये गये। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र घोड़ाड़ोंगरी में संलग्न कर्मचारियों का संलग्नीकरण तत्काल समाप्त करने के निर्देश दिये गये।