श्री अर्जुन मुंडा ने प्रथम वर्चुअल आदि महोत्सव-मध्यप्रदेश का उद्घाटन किया

Scn news india

मनोहर

भोपाल-केन्द्रीय जनजातीय मामलों के मंत्री श्री अर्जुन मुंडा ने आज आदि महोत्सव-मध्यप्रदेश के वर्चुअल संस्करण का शुभारंभ किया। एक दिसम्बर, 2020 से आरंभ हुए 10 दिवसीय उत्सव की मेजबानी वेबसाइट www.tribesindia.com पर की जा रही है। मुख्य फोकस मध्यप्रदेश के जनजातीय शिल्प और संस्कृति पर है। मध्यप्रदेश शासन की जनजातीय विकास विभाग की मंत्री सुश्री मीना सिंह और ट्राइफेड के अध्यक्ष श्री रमेशचन्द मीणा आज के इस ऑनलाइन शुभारंभ कार्यक्रम के अतिथि थे।

इस अवसर पर श्री अर्जुन मुंडा ने अपने उद्बोधन में कहा कि आदि महोत्सव-मध्यप्रदेश का वर्चुअल संस्करण जनजातीय जीवनों और आजीविकाओं के परिवर्तन में मदद करने का एक और प्रयास है। उन्होंने कहा कि आज के आदि महोत्सव के शुभारंभ में सम्मिलित होकर तथा मध्यप्रदेश को प्रोजेक्ट करने को लेकर वे वास्तव में प्रसन्न हैं। आदि महोत्सव एक राष्ट्रीय जनजातीय त्यौहार है और भारत सरकार के जनजातीय मामलों के मंत्रालय एवं जनजातीय सहकारिता विपणन विकास संघ की एक संयुक्त पहल है। यह त्यौहार मध्यप्रदेश राज्य की पारम्परिक कला, हस्त-शिल्प और सांस्कृतिक विरासत को दर्शाता है।

मध्यप्रदेश की जनजातीय विकास मंत्री सुश्री मीना सिंह ने अपने संबोधन में भारत सरकार के जनजातीय मामलों के मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय जनजातीय उत्सव ‘आदि महोत्सव” पूरे देश में आयोजित करने को स्वागत-योग्य निरूपित किया।

ट्राइफेड के अध्यक्ष श्री रमेशचन्द मीणा ने ट्राइफेड और इसकी टीम को आदिवासी कारीगरों के लिये इस तरह का एक व्यवहार्य विकल्प उपलब्ध कराने के लिये बधाई दी और आशा व्यक्त की कि यह वर्चुअल आदि महोत्सव एक सफल आयोजन होगा।

वर्चुअल लांच के मुख्य आकर्षणों में कारीगरों के कार्य-स्थल का वर्चुअल टूर एवं मध्यप्रदेश के आदिवासी नृत्य एवं संगीत की झलकियाँ शामिल थीं। यह कार्यक्रम विभिन्न जनजातीय परम्पराओं को प्रदर्शित करेगा- उनकी कला और प्राकृतिक उपज के प्रदर्शन से। उनकी संस्कृति- संगीत, नृत्य आदि को दर्शाने वाले वीडियो भी साझा किये जायेंगे। यह आयोजन एक भिन्न प्लेटफार्म पर जनजातियों और उनकी विविध जीवन-शैली का उत्सव होगा।