बढ़ते कोरोना के मामले -मुख्यमंत्री ने कोरोना की स्थिति की समीक्षा के लिए 24 नवंबर को फिर बैठक बुलाई

Scn news india

मनोहर

सर्दी के शुरुआत होते ही देश के ज्यादातर राज्यों में कोरोना वायरस के मामले फिर से बढ़ते जा रहे है। जिन्हे ध्यान में रखते हुए एक बार फिर से लॉकडाउन की आशंका बलवती होती दिख रही है। वहीँ महाराष्ट्र , गुजरात और मध्य प्रदेश  जैसे कई राज्यों ने तो सख्ती बरतनी शुरू भी कर दी है। एक ओर जहां महाराष्ट्र सरकार दिल्ली-मुंबई के बीच ट्रेन और विमान सेवा बंद करने पर विचार कर रही है, तो वहीं गुजरात और मध्य प्रदेश के बाद अब राजस्थान  के कई जिलों में नाइट कर्फ्यू  लगाए जाने की घोषणा कर दी गई है। कोरोना महामारी का प्रकोप फिर से बढ़ता दिख रहा है।

मध्यप्रदेश की बात करें तो इंदौर इस समय हॉट स्पॉट होता जा रहा है। जहाँ पिछले 24 घंटों में कोरोना पाजेटिव  के लगभग 546 मामले दर्ज किये गए वही अब की संख्या 37661 हो गई है।

इधर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बंद के पक्ष में नहीं हैं, क्योंकि इससे आर्थिक गतिविधियां बुरी तरह प्रभावित होती हैं। लिहाजा, जिला प्रशासन सख्ती न बरते, बल्कि व्यापारियों से बाजार बंद करने की अपील करे। साथ ही उन्हें कोरोना गाइडलाइन का पालन कराने के लिए प्रेरित करे। मुख्यमंत्री ने कोरोना की स्थिति की समीक्षा के लिए 24 नवंबर को फिर बैठक बुलाई है।