हनुमना में दिव्यांग शिविर आयोजित हुआ दिव्यांगों का किया गया परीक्षण

Scn news india

कामता तिवारी
ब्यूरो सतना
Scn news india

रीवा -जिला प्रशासन, रेडक्रास तथा एलिम्को के संयुक्त प्रयास से जिले में लगाये जा रहे दिव्यांग शिविर की श्रंखला में आज हनुमना में दिव्यांगों की जांच हेतु शिविर विधायक प्रदीप पटेल की उपस्थिति में आयोजित किया गया। शिविर में दिव्यांगों की जांच कर उन्हें शीघ्र ही कृत्रिम उपकरण उपलब्ध कराये जायेंगे।
हायर सेकेण्डरी स्कूल ग्राउण्ड में आयोजित शिविर के शुभारंभ अवसर पर विधायक प्रदीप पटेल ने कहा कि यह शिविर दिव्यांगों के लिये लाभदायक साबित हो रहे हैं। इन शिविरों के माध्यम से दिव्यांगों का पंजीयन कर दिव्यांगता प्रमाण पत्र जारी किये जा रहे हैं तथा बाद में इन्हें एलिम्को के सौजन्य से दिव्यांग कृत्रिम उपकरण उपलब्ध कराये जायेंगे। उन्होंने कहा कि यह पुनीत कार्य है। शिविर में दिव्यांगजनों को उपकरण तो मिलेंगे ही बल्कि उन्हें शासन द्वारा प्रदान की जा रही विभिन्न सुविधाओं का लाभ भी मिलेगा। विधायक ने शिविर में दिव्यांगजनों से चर्चा करते हुए उन्हें दी जा रही सुविधाओं के संबंध में जानकारी भी ली।
शिविर में 781 दिव्यांगजनों का रजिस्ट्रेशन किया गया जिनमें से मेडिकल बोर्ड द्वारा 200 दिव्यांग प्रमाण पत्र जारी किये गये। शिविर में 261 व्यक्तियों के आय प्रमाण पत्र बनाये गये। इसके अतिरिक्त शिविर में 135 समग्र आईडी, 59 आधार कार्ड तथा 18 आवेदन पत्र निरामया बीमा योजना के प्राप्त किये गये। एलिम्को द्वारा प्रकरण हेतु पात्र पाये गये दिव्यांगों की संख्या 315 रही। समाचार लिखे जाने तक शिविर में दिव्यांगजनों का रजिस्ट्रेशन किया जाकर कृत्रिम अंग के लिये पात्र दिव्यांगजनों का चिन्हांकन जारी है।
शिविर स्थल के प्रवेश द्वार पर दिव्यांगजनों का पंजीयन किया गया। इसके बाद उनकी मेडिकल जांच की गयी। जिनके पास आय प्रमाण पत्र, आधार कार्ड तथा दिव्यांगता प्रमाण पत्र नहीं थे उन्हें मौके पर ही आय प्रमाण पत्र, आधार कार्ड तथा दिव्यांगता प्रमाण पत्र प्रदान किये गये। शिविर में आवेदन के लिए फोटो खींचने की भी व्यवस्था की गयी। शिविर स्थल में दिव्यांगों को नि:शुल्क भोजन, चाय, नाश्ते तथा पानी की सुविधा दी गयी। दिव्यांगों के अभिलेखों की नि:शुल्क फोटो कापी की भी शिविर में व्यवस्था की गयी। शिविर में कई पात्र दिव्यांगों के दिव्यांगता पेंशन के आवेदन पत्र भरवाये गये। इन्हें शीघ्र ही पेंशन राशि मंजूर की जायेगी। शिविर को सफल बनाने में जिला रेडक्रास समिति तथा एन.सी.सी. एवं स्काउट के वालेन्टियर्स ने सराहनीय योगदान दिया। शिविर में एसडीएम मऊगंज श्रीमती माला त्रिपाठी, संयुक्त कलेक्टर शैलेन्द्र सिंह, संयुक्त संचालक सामाजिक न्याय अनिल दुबे, सीईओ हनुमना एम.आर. मेहरा, तहसीलदार, नायब तहसीलदार सहित बड़ी संख्या में दिव्यांगजन एवं उनके परिजन तथा अधिकारी, कर्मचारी, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, आशा कार्यकर्ता उपस्थित रहे।