सीमांकन के लंबित प्रकरणों के निराकरण पर विशेष ध्यान दें – कलेक्टर

Scn news india

कामता तिवारी
ब्यूरो सतना
Scn news india

रीवा- कलेक्ट्रेट के बाणसागर सभागार में आयोजित बैठक में कलेक्टर इलैयाराजा टी ने सीमांकन के प्रकरणों के निराकरण तथा किसान सम्मान निधि के प्रकरणों की समीक्षा की। कलेक्टर ने कहा कि सभी एसडीएम सीमांकन के लंबित प्रकरणों के निराकरण पर विशेष ध्यान दें। पिछले दो महीनों से सीमांकन तथा अन्य राजस्व प्रकरणों के निराकरण में शानदार काम किया है। लंबित राजस्व प्रकरणों के निराकरण में सराहनीय उपलब्धि हासिल हुई है। सभी एसडीएम, राजस्व निरीक्षकों तथा पटवारियों के लिये साप्ताहिक लक्ष्य निर्धारित करें। इन लक्ष्यों की पूर्ति की नियमित समीक्षा करें। अच्छे कार्य करने वाले पटवारियों तथा राजस्व निरीक्षकों को सम्मानित करें।
कलेक्टर ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि तथा मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना में शेष बचे पात्र किसानों के नाम एक सप्ताह में शत-प्रतिशत दर्ज करायें। इसमें शामिल अपात्र किसानों के नाम सूची से हटाने के भी कार्यवाही करें। लोक सेवा गारंटी योजना में लंबित राजस्व प्रकरणों का निराकरण कराकर उसकी जानकारी आरसीएमएस पोर्टल में दर्ज करायें। सभी एसडीएम लगातार कठिन परिश्रम कर रहे हैं। कई नायब तहसीलदार तथा पटवारी ने भी शानदार कार्य किया है। भू अर्जन के लंबित प्रकरणों पर भी तेजी से कार्यवाही करें। संबंधित विभागों से भू अर्जन की लंबित राशि तत्काल जमा करायें। वनाधिकार अधिनियम के तहत जारी सभी वनाधिकार पत्रों को पोर्टल पर दर्ज करायें जिससे इन किसानों को सम्मान निधि का लाभ मिल सके। एसडीएम त्योंथर, जवा में लंबित प्रकरणों को आनलाइन दर्ज करायें।
बैठक में कलेक्टर ने कहा कि जिले भर में धान उपार्जन शुरू हो गया है। एसडीएम तथा राजस्व अधिकारी नियमित रूप से उपार्जन केन्द्रों का निरीक्षण करें। धान उपार्जन में किसी तरह की कठिनाई आने पर तत्काल उसका समाधान करायें जिससे किसानों को समर्थन मूल्य पर धान देने में कोई परेशानी न हो। उचित मूल्य दुकानों से जूट के बारदाने एकत्रित कराकर खरीदी केन्द्रों में उपलब्ध करायें। कलेक्टर ने कहा कि जिले भर में दिव्यांगों की जांच के लिये शिविर लगाये जा रहे हैं। इन शिविरों में दिव्यांगों को सुविधाएं देने के लिये आवश्यक प्रबंध करायें। बैठक में एडीएम श्रीमती इला तिवारी ने सीमांकन, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि तथा डायवर्सन के प्रकरणों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि सभी एसडीएम तथा तहसीलदार प्रत्येक मंगलवार पटवारियों की बैठक में राजस्व कार्यों की समीक्षा करें। बैठक में संयुक्त कलेक्टर एके झा, एसडीएम रायपुर एके सिंह, एसडीएम मऊगंज श्रीमती माला त्रिपाठी, एसडीएम सेमरिया नीलमणि अग्निहोत्री, एसडीएम गुढ़ राहुल नायक तथा एसडीएम त्योंथर संजीव पाण्डेय उपस्थित रहे।