ग्रेटर रैकेट टेल्ड ड्रॉन्गो

Scn news india

आशीष उघड़े 

अमूमन बड़े शहरों में यह पक्षी बेहद कम से ही देखने को मिलता है, परंतु मध्यप्रदेश के बैतूल जिले में इन्हें आमतौर पर चहल-पहल करते हुए देखा जा सकता है ।
यह पक्षी काले रंग का होता है और इसकी बड़ी पूंछ दिखने में बेहद आकर्षित होती है। यह पक्षी जंगल में मौजूद दूसरे पक्षियों की आवाज़ की नकल भी करते हैं। इन्हें अन्य पक्षियों के साथ झुंड में भी देखा जा सकता है, यह पक्षी विभिन्न प्रजातियों के पक्षियों के साथ झुंड बनाकर जंगल में एक जगह से दूसरी जगह आते-जाते हैं और शिकार करते हैं। एक दूसरे के साथ रहने पर खतरा महसूस होने पर यह पक्षी आपस में एक दूसरे को चेतावनी दे देते हैं जिससे यह जंगल में सुरक्षित रहते हैं। सुने घने जंगलों में इन के माध्यम से चहल पहल की जाती है।