कोयला खदान सेवानिवृत्त कर्मचारी वेलफेयर समिति की बैठक संपन्न

Scn news india

आशीष उघड़े  

शीर्षस्थ नेता श्री जे. एन. सिंह की पहल रंग लाएगी और कोयला खदान सेवानिवृत्त कर्मचारियों के हित में 9 दिसंबर 2020 को फैसला आएगा – योगेंद्र नाथ सिंह

वीरेंद्र झा प्रवक्ता कोयला खदान सेवानिवृत्त कर्मचारी वेलफेयर समिति पाथाखेड़ा ने बताया कि दिनांक 30/10 /2020 को पाथाखेड़ा के शिव मंदिर स्कूल प्रांगण में कोयला खदान सेवानिवृत्त कर्मचारी वेलफेयर समिति पाथाखेड़ा की बैठक संपन्न हुई । इस बैठक में अध्यक्ष श्री योगेन्द्र नाथ सिंह ने बताया कि हमारी संस्था को संबद्धता प्रदान करने वाला संगठन फेडरेशन ऑफ कोल इंडस्ट्रीज रिटायर्ड एम्पलाइज एसोसिएशन के अध्यक्ष जे. एन. सिंह के अथक प्रयास से कोल इंडिया सेवानिवृत्त कर्मचारियों की पेंशन को कानूनी मान्यता दिलवाने एवं जायज़ पेंशन राशि मिलने बाबत सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर किया गया था, सुप्रीम कोर्ट ने इस याचिका को फास्ट ट्रेक दिल्ली हाईकोर्ट को भेज दी। ज्ञात रहे कि यह मामला सन 2017 से कोर्ट में विचाराधीन है। कोरोना महामारी के कारण पेशियां टलते जा रही थी सुनवाई की अगली तारीख 9 दिसंबर 2020 दी गई।
संस्था के शीर्षस्थ नेता जे एन सिंह के द्वारा कोर्ट से आग्रह किया कि निर्णय जल्दी दिया जाए इस पर 23 अक्टूबर 2020 को न्यायाधीश महोदय ने 9 दिसंबर 2020 को पूर्ण सुनवाई कर निर्णय देने की बात कही साथ ही श्री योगेंद्र नाथ सिंह ने कहा कि हमारी संस्था को पूर्ण विश्वास है कि हमारे शीर्षस्थ नेता श्री जे एन सिंह की पहल रंग लाएगी और कोयला खदान सेवानिवृत्त कर्मचारियों के हित में फैसला आएगा ।
इस अवसर पर संगठन के सचिव श्री शेर सिंह परमार ने कहा कि हमारी संस्था सेवानिवृत्त कर्मचारियों की पेंशन की समस्याओं के समाधान के साथ साथ उनकी अन्य वेलफेयर हेतु अग्रसर है हमारी संस्था की विशेषता है कि सेवा भाव से काम करते हैं । आपने दलालों से दूर रहने हेतु सेवानिवृत्त कर्मचारियों से आग्रह किया ।
श्री अंतराम सोनी ने संगठन की एकता पर जोर दिया, आपने कहा कि आज के समय में संगठन के बिना किसी भी समस्या का समाधान नहीं हो सकता इसलिए संगठन में रहना जरूरी है।
संगठन के वरिष्ठ नेता श्री आर बी पांडे ने अन्य बिंदुओं पर चर्चा करते हुए बैठक की आभार व्यक्त की ।