गुनौर तहसीलदार ने गरीबों को थमाया नोटिस मदद के लिए पहुंची भाजपा नेत्री अमिता बागरी

Scn news india

अमित त्रिपाठी
गुनौर – तहसील गुन्नौर के अंतर्गत ग्राम पंचायत बिहरासर के मजरा सिंघासर गांव के लोगों को 2005 में बाढ़ आने के कारण पूर्व में रही कलेक्टर दीपाली रस्तोगी के द्वारा चिन्हित की गई थी जमीन जगह पर किसी कारणवश उनके पट्टे नहीं बन पाए 2005 से काबिज गरीब लोग है इसके बावजूद तहसीलदार गुनौर ने थमाया नोटिस आशियाना गिराने का गरीबनो को नोटिस मिलते ही उन गरीबों को ना रात में नींद ना दिन में चैन है लोग पहुंचे तहसील कार्यालय अपनी पुकार लेकर गए गुनौर तहसीलदार गुनौर नै ना ही उनकी शिकायत सुनी और उन गरीबों को भगा दिया कि तुम सब लोगों के मकान गिरेंगे तुम लोगों ने अतिक्रमण कर रखा है इस प्रकार से कहकर तहसीलदार गुनौर द्वारा गरीबों को भगा दिया गया वहीं क्षेत्र भ्रमण में रही भाजपा नेत्री श्रीमती अमिता बागरी महिला मोर्चा जिला मंत्री पन्ना जैसे ही गरीबों ने अमिता बागरी को देखा तो उन्हों के अंदर एक आस जाग उठी और उन्होंने अपनी आपबीती सुनाते हुए कहा कि हम गरीब लोगों का आशियाना गिराने का तहसीलदार महोदय द्वारा नोटिस काटा गया है और धमकियां दी गई है कि आप लोग अतिक्रमण किए हुए हैं और तुम्हारा घर गिरेगा आपसे निवेदन है कृपया कर हम गरीबों की मदद करें और सरपंच के द्वारा भी लगातार शिकायतें कि जा रही हैं हम लोग गरीब लोग नदी किनारे हम लोगों के घर मकान बने हुए हैं हर वर्ष थोड़ी सी बारिश होते ही हम लोगों के घरों में पानी भर जाता है इसलिए हम लोगों को कलेक्टर महोदय द्वारा दी गई जमीन उस जमीन पर हम अपने परिवार को लेकर मड़ैया बनाकर किसी तरह से गुजर बस कर रहे हैं और अपना परिवार का पालन पोषण मजदूरी कर रहे हैं यह जमीन हाईवे पर होने के कारण सरपंच सहित अन्य प्रतिनिधियों के अंदर लालच देखी जा रही है जिसके द्वारा लगातार फर्जी शिकायतें की जा रही हैं हम गरीबोंनो का आशियाना गिराने को लेकर के
मौके पर पहुंचे अमिता बागरी के द्वारा जब उनकी समस्या सुनी गई तो उन्होंने तत्काल तहसीलदार महोदय को फोन लगाकर बात की और उचित कार्यवाही करने हेतु निवेदन किया जब तहसीलदार महोदय से बात की तो उन्होंने कहा कि हमारे तहसील कार्यालय से नोटिस जारी कर दिए गए हैं जिसकी जांच विवेचना कर उचित कार्यवाही करेंगे जबकि मध्य प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान गरीबों को आशियाना देने का काम कर रहे है लेकिन गुनौर तहसील का कुछ अलग ही हाल है यहां पर मुख्यमंत्री महोदय के सपनों को किया जा रहा चूर-चूर अमिता बागरी के द्वारा तहसीलदार महोदय को मामला संज्ञान में लाने के बाद अब देखना यह होगा कि तहसीलदार महोदय के द्वारा क्या कार्यवाही की जाती है
इनका कहना
मेरा गुनौर आना हुआ और इन लोगों के द्वारा लगातार तीन-चार दिनों से मुझ से बात करने की कोशिश की जा रही थी और जब मैंने यहां आकर देखा तो यह लोग वास्तव में भूमिहीन हैं और एसडीएम महोदय के द्वारा नोटिस काटा गया है और मेरी बात भी हुई तहसीलदार से तो उन्होंने बताया कि यहां पर कुछ लोगों के द्वारा शिकायतें की गई थी| लेकिन जो हमारी भाजपा सरकार के मुखिया माननीय मुख्यमंत्री जी का सख्त निर्देश है किसी भी भूमिहीन का घर ना तोड़ा जाए तो मेरा यही प्रयास रहेगा कि इन लोगों का घर ना तोड़ा जाएगा ओर मेने कलेक्टर साहब से भी बात की है तो उन्होंने भी आश्वासन दिया है कि गरीबनो का घर नहीं तोड़ा जाएगा
भाजपा नेत्री अमिता बागरी महिला मोर्चा जिला मंत्री पन्ना