एक माह में ही नाले का पाईप क्षतिग्रस्त घटिया निर्माण की खुली पोल, नपा मौन

Scn news india

आशीष उघड़े
सारणी। डॉ. जाकिर हुसैन वार्ड क्रमांंक 4 में एक माह पहले बना नाली का स्लेब क्षतिग्रस्त हो गया. जिससे दुपहिया वाहन चालकों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. खासबात यह है कि निर्माण के वक्त ही नपा इंजीनियरों ने कार्य की गुणवत्ता पर ध्यान नहीं दिया. जिसका परिणाम है कि एक माह में ही नाली का पाइप और स्लेब में गड्ढे हो गये. अब मामला सामने आने पर अधिकारी जांच और बिल रोकने की बात कर रहे है. दरअसल नाली में पाइप और स्लेब का ठेका नगरपालिका ने स्थानीय ठेकेदार को दिया है. लगभग 25 लाख रूपये के ठेके में ठेकेदार को नगरपालिका के सभी 36 वार्डो में आवश्यकतानुसार और मांग के अनुसार वर्षभर नाली पर पाइप और स्लेब का काम करना है. लेकिन निर्माण की न तो नपा इंजीनियर मॉनीटरिंग कर रहे है और न ही गुणवत्ता पूर्ण कार्य हो रहा है या नहीं, इसे देखने वाला कोई है. ठेकेदार मनमानी पूर्ण काम कर रहे है. सूत्रों की माने तो ठेकेदार द्वारा नालियों में क्षतिग्रस्त पाईपों का इस्तेमाल किया जा रहा है और इस पर बिछाया जाने वाला सीमेंट-कांक्रीट के बेस में भी गुणवत्ता नहीं होती है जिसकी वजह से ही चंद महीने में निर्माण कार्य दम तोड़ देते है.
दुर्घटना की बढ़ी आशंकाएं – नगर के वार्ड क्रमांक 4 में ठेकेदार द्वारा एक माह पहले नाली में पाइप और स्लेब डाला गया था, जिस पर गड्ढे हो गये है और लोगों को खासतौर से दुपहिया वाहन चालकों को आवागमन में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. रात्रि में नाली पर गड्ढे दिखाई नहीं देते और वाहन के पहिये इसमें धंसने से दुर्घटनाएं हो रही है.
इनका कहना है –
यदि ठेकेदार द्वारा घटिया निर्माण किया गया है तो इंजीनियर को भेजकर इसकी जांच की जायेगी और बिल रोकने की कार्रवाही करेगे.
सीके मेश्राम, सीएमओ नपा सारणी