कोचिंग जा रही नाबालिग छात्रा के साथ मनचले युवक ने की छेड़छाड़, विरोध करने पर की मारपीट,पीड़िता अस्पताल में भर्ती

Scn news india

रविकांत बिदौल्या 

हटा अनुविभाग के रनेह थाना अंतर्गत गांव में कोचिंग जा रही एक नाबालिग छात्रा के साथ रास्ते में एक मनचले युवक ने बुरी नियत के साथ छेड़छाड़ की जब पीड़िता ने इसका विरोध किया तो मनचले युवक ने उसके साथ जमकर मारपीट भी कर दी जिससे उसकी पेट व कमर में गंभीर चोटें पहुंची घटना की रिपोर्ट करने पीड़िता अपने पिता के साथ रनेह थाना पहुंची तो थाना प्रभारी ने साधारण रिपोर्ट दर्ज कर रफूचक्कर कर दिया तदोपरांत नाबालिक ने 1098 चाइल्ड लाइन पर शिकायत कर दी सूचना मिलते ही दमोह की टीम ने हटा अस्पताल पहुंचकर पीड़ित नाबालिग बालिका के बयान दर्ज कर पुलिस अधिकारियों के बात कर मारपीट का मामला दर्ज कर पीड़िता को न्याय दिलाने की बात की…

दरअसल मामला रनेह पुलिस थाना का है जहां नाबालिग पीड़ित छात्रा के पिता ने बताया कि मेरी नाबालिग पुत्री गुरुवार की सुबह रोजाना की तरह कोचिंग जा रही थी कि कुछ ही दूरी पर रास्ते में रनेह निवासी हर्षित चौबे ने बालिका के साथ छेड़छाड़ कर दी उसके द्वारा विरोध किए जाने पर उसने डंडे से मारपीट भी कर दी जिससे उसके पेट व कमर में गंभीर चोटें पहुंची जिसकी शिकायत करने पीड़ित को लेकर रनेह थाना जा रहे उसके पिता के साथ रास्ते मे मनचले युवा ने डंडे से मारपीट कर दी और जान से मारने की धमकी देकर मोके से फरार हो गया.. यह सब घटना पुलिस थाना पहुंचकर थाना प्रभारी को बताएं लेकिन उनके द्वारा उल्टा हम लोगों को डांट फटकार कर 155 के तहत कार्यवाही कर दी गई एवं पुत्री को गंभीर चोटें आने पर सिविल अस्पताल भेज दिया गया जहां उसका इलाज जारी है।

इसके उपरांत बालिका द्वारा 1098 चाइल्ड हेल्पलाइन पर फोन लगाकर शिकायत दर्ज करवाई। जहां कुछ ही घंटों में दमोह की टीम के सदस्य संगीता ठाकुर एवं अवधेश पाल ने हटा पहुंचकर अस्पताल में महिला बाल विकास की पर्यवेक्षकों की मदद से पीड़िता के बयान दर्ज किए एवं जिले के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से बात कर आरोपी के विरुद्ध मामला दर्ज करने की बात की। तब जिले के पुलिस अधिकारियों ने गंभीरता से लेते हुए रनेह थाना प्रभारी को हटा अस्पताल में भर्ती पीड़िता के पुनः बयान दर्ज करने निर्देशित किया। अब देखना यह होगा कि पीड़िता को न्याय मिलता है या फिर पुलिस कि समझायस।