ब्याज मुक्त फसल ऋण मिलने से बेहतर हो रही किसानों की खेती

Scn news india

कामता तिवारी
ब्यूरो सतना
Scn news india

रीवा – किसानों के कल्याण तथा खेती को बेहतर बनाने के लिये मध्यप्रदेश शासन ने अनेक योजनायें लागू की हैं। खेती को बेहतर करने तथा समय पर किसानों को खाद, बीज एवं खेती के लिये आवश्यक उपकरणों का प्रबंध करने के लिये सहकारी बैंक के माध्यम से ब्याज मुक्त फसल ऋण दिया जा रहा है। किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से किसानों को यह राशि उनके बैंक खाते में प्राप्त हो रही है। रीवा जिले के 13 हजार से अधिक किसानों को सितम्बर माह के अंतिम सप्ताह में 20 करोड़ रूपये से अधिक की ब्याज मुक्त ऋण राशि वितरित की गई। समय पर राशि मिल जाने से किसान आगामी फसल की तैयारी में जुट गये हैं।
किसान क्रेडिट कार्ड योजना से सेवा सहकारी समिति मध्येपुर से लाभान्वित किसान वंशराज सिंह ने बताया कि उन्हें 19 हजार 56 रूपये का फसल ऋण प्राप्त हुआ है। इससे गेंहू तथा चने की फसल के लिये आवश्यक बीज एवं खाद का प्रबंध हो जायेगा। खाद-बीज के लिये अब साहूकारों से ऊंची ब्याज पर कर्ज लेने की जरूरत नहीं रहेगी। समय पर खाद-बीज का प्रबंध होने से ठीक समय में खेतों की बुवाई हो जायेगी जिससे अच्छी फसल प्राप्त करने में सहायता मिलेगी। फसल आने पर सहकारी बैंक की मूलधन की राशि जमा करके आगामी फसल के लिये फिर से राशि मिल जायेगी।
इसी तरह सेवा सहकारी समिति गुढ़ से लाभान्वित किसान ग्राम करौदी निवासी रामयश पटेल को 54 हजार 314 रूपये की ऋण राशि मिली है। इससे उन्होंने खाद तथा बीज का प्रबंध किया है। खेतों की जुताई के लिये भी इस राशि से व्यवस्था हो जायेगी। उन्होंने मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा है कि मुख्यमंत्री जी किसानों के सच्चे हितैषी हैं। जीरो प्रतिशत ब्याज पर फसल ऋण के साथ किसानों को 10 हजार रूपये की किसान सम्मान निधि हर वर्ष दी जा रही है। इससे भी खेती के छोटे-मोटे काम पूरे हो जायेंगे।