पाथाखेड़ा दशहरा मैदान में रंगारंग आतिशबाजी के साथ 21 फीट के रावण का हुआ दहन

Scn news india

आशीष उघड़े 

घोड़ाडोंगरी तहसीलदार मोनिका तथा थाना प्रभारी चौहान ने अहंकारी कोरोना युक्त रावण का किया दहन

सारनी। प्रति वर्ष की तरह इस वर्ष भी सारनी तथा पाथाखेड़ा में विजयदशमी के अवसर पर रावण दहन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें सारनी तथा पाथाखेडा के फुटबॉल ग्राउंड में सद्भावना दुर्गा पूजा उत्सव समिति व्दारा नौ दिनों से मां दुर्गा की आराधना के साथ ही दशहरे पर 21 फीट का रावण दहन किया गया। जहां कार्यक्रम के मुख्य अतिथि आमला सारनी विधानसभा के विधायक डॉ. योगेश पंडाग्रे, सारनी नगर पालिका अध्यक्ष आशा महेंद्र भारती, नगर पालिका उपाध्यक्ष भीम बहादुर थापा, शाहपुर अनुविभागीय राजस्व अधिकारी अनिल सोनी, घोड़ाडोंगरी तहसीलदार मोनिका विश्वकर्मा, सारनी थाना प्रभारी महेन्द्र सिंह चौहान, पाथाखेडा चौकी प्रभारी नीरज खरे के अलावा विशेष अतिथि भाजपा के जिला मंत्री रंजीत सिंह, मंडल अध्यक्ष सुधा चंद्रा, एटक यूनियन के श्रमिक नेता श्रीकांत चौधरी, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य कमलेश सिंह, पूर्व मंडल महामंत्री जीपी सिंह, भाजपा मंडल महामंत्री किशोर बरदे उपस्थित थे।

इस दौरान रावण दहन कार्यक्रम कार्यक्रम शुरू होने से पूर्व आमला सारनी विधानसभा के विधायक डॉ. योगेश पंडाग्रे में मां दुर्गा विराजित प्रतिमा के समक्ष पूजा अर्चना कर रावण दहन स्थल का निरीक्षण किया और आमला में किसी आवश्यक कार्यक्रम में शामिल होने आमला रवाना हुये। जिसके बाद माता रानी की आरती का शुभारंभ होने के पश्चात पटाखों का दौर शुरू हुआ और देशी रंगबिरंगी आतिशबाजि लगभग एक से दो घंटे तक चलती रही। उसके बाद कार्यक्रम के मुख्य अतिथि घोड़ाडोंगरी तहसीलदार मोनिका विश्वकर्मा तथा सारनी थाना प्रभारी महेन्द्र सिंह चौहान ने रावण के समक्ष जाकर उसकी पूजा अर्चना की और थाना प्रभारी महेन्द्र सिंह चौहान द्वारा चलाये गये तीर के लगते ही अहंकारी कोरोना युक्त रावण धूं-धूं कर जलने लगा और करीब एक घंटा जलने के बाद रावण जल कर खाक हो गया। जबकि रावण दहन कार्यक्रम में देखने के लिए चोपना, घोड़ाडोंगरी, आमला, सारनी नगरीय निकाय एवं आसपास के क्षेत्रों से एक हजार के लगभग लोग पाथाखेड़ा दशहरा मैदान में पहुंचे थे।

पूरा फुटबॉल ग्राउंड दशहरा मैदान आम जनता की भीड़ ने सोशल डिस्टेंसिंग एवं मास्क का उपयोग कर रावण दहन कार्यक्रम का लुत्फ उठाया। लोग अपनी छत पर भी खड़े होकर इस रावण दहन के अद्भुत द्रश्य को देख रहे थे। वही कुछ लोग अपने मोबाइल से रावण दहन के सुनहरे पल को अपने मोबाइल में कैद करने से ही नहीं चुके। भीड़ को काबू करने तथा सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस प्रशासन भी काफी सख्त दिखाई दी और आगजनी की घटना से निपटने के लिए नगर पालिका सारनी अपने कर्मचारियों के साथ दमकल वाहन मौजूद रही। इसके साथ ही रावण दहन प्रांगण में जगह जगह पर सुरक्षा को मद्देनजर पुलिस प्रशासन तथा नपा सारनी द्वारा सीसीटीवी कैमरे लगाये गये थे।

वही कार्यक्रम के अंत में रावण दहन का पुतला बनाने वाले समितियों के सदस्य को घोड़ाडोंगरी तहसीलदार मोनिका विश्वकर्मा, थाना प्रभारी महेन्द्र सिंह चौहान, भाजपा जिला मंत्री रंजीत सिहं, नगर पालिका उपाध्यक्ष भीम बहादुर थापा के द्वारा नगद राशि से पुरस्कृत किया गया। मंच का संचालन पत्रकार कैलाश पाटिल द्वारा किया गया। जबकि आभार व्यक्त सद्भावना दुर्गा पूजा उत्सव समिति के सदस्य लक्ष्मण साहू, संजय प्रजापति, दीपक मोहंती द्वारा किया गया। वह इस अवसर पर सद्भावना उत्सव समिति के लक्ष्मण साहू, संजय प्रजापति, बाबू झा, शिवनाथ साहू, जीपी सिंह, दीपक मोहंती, भोजराज, पत्रकार छविनाथ भारव्दाज, पत्रकार कैलाश पाटिल, पत्रकार गजेंद्र सोनी, पंडित मिथिलेश द्विवेदी, अनुसूचित जाति मोर्चा के राजकुमार नागले, प्रवीण सोनी सहित समिति के सदस्य तथा लोग मौजूद थे।