शांति और कानून व्यवस्था बनाने के लिए आठ जगहों पर होगा दुर्गा प्रतिमाओं का विर्सजन

Scn news india

दिलीप पाल 

आमला. सब कुछ ठीक ठाक रहा तो आज विजय दशमी का पर्व काफी उत्साह पूर्वक रहेगा क्योंकि नव दिन माता की भक्ति में भक्त पूरे लीन थे इस बार वैसे नवरात्रि का पर्व शासन की गाइड लाइन के अनुसार मनाया गया था क्योंकी कोरोना के संक्रमण के चलते कोविड-19 के नियमो का पालन करते हुए भक्तो ने माँ दुर्गा की आराधना पूजा अर्चना की है इस बार दुर्गा प्रतिमाओं की स्थापना में बेंड बाजे डीजे का ज्यादा इस्तेमाल नही किया गया फिर भी शासन के नियम के अनुसार भक्तो ने एक्का दुक्का कार्यक्रम कर पर्व को उत्साह से मनाया आज दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन होगा इसके लिए प्रशासन ने चार जगहों पर विसर्जन करने के लिए पाइंट बनाए है तहसीलदार नीरज कालमेघ ने बताया कि ग्राम हसलपुर डेम,ससाबड़,चन्दभगा नदी,रमली डेम, विसर्जन के लिए समय सारणी भी तय की जिसके तहत आज शाम 6 बजे तक विसर्जन किया जाएगा विसर्जन के लिए नपा द्वारा विसर्जन स्थल पर बिजली व्यवस्था के साथ ही गोताखोरों की व्यवस्था भी की गई है वही स्थानीय पुलिस प्रशासन और नपा के कर्मचारी विसर्जन स्थल पर सुबह से लेकर रात्रि 2 बजे तक मौजूद रहेंगे कोविड19 कोरोना के चलते इस बार विसर्जन के लिए भक्तो को नियमो में बंधे रहना पड़ेगा विसर्जन के लिए सर्फ 10 लोग ही माता रानी के विसर्जन के लिए जा सकेंगे और वह भी 2 बाजो के साथ उल्लेखनीय होगा कि हर वर्ष नवरात्र में भक्तो के द्वारा माता की भक्ति कर हर्षोल्लास के साथ माता को विदाई देते थे लेकिन इस वर्ष कोरोना के चलते शासन द्वारा नियम बना दिये गए है इसी के दायरे में इस बार भक्त मातारानी को विदाई देंगे ।