मध्य प्रदेश के खनिज मंत्री की विधानसभा में अवैध रेत माफियाओं का कहर, किसान परेशान रेत माफियाओं के सामने क्यों मौन है जिला प्रशासन

Scn news india

विकास सेन पन्ना

जहां एक ओर मध्य प्रदेश की सरकार किसान हितेषी सरकार बताने में लगा हुआ है वहीं प्रदेश के खनिज मंत्री की विधानसभा पन्ना के अजयगढ़ से लगे तमाम ग्रामीण क्षेत्रों में रेत माफियाओं के हौसले बुलंद है जो खुलेआम अवैध रेत उत्खनन करने में लगे हुए हैं जिस से लगे हुए अनेकों गांव के किसान इन माफियाओं से परेशान हो रहे हैं इन किसानों के द्वारा जिला प्रशासन से बार-बार न्याय की गुहार भी लगाई जाती है लेकिन फिर भी जिला प्रशासन की नाक के नीचे चल रहा है रेत का अवैध उत्खनन राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण एनजीटी के नियमों को ठेंगा दिखाकर रश्मीत मेहरोत्रा एंड कंपनी जिले भर में कर रही है रेत का काला कारोबार ,एनजीटी के नियमों के अनुसार वैधानिक रूप से नदियों के किनारे खेतों से व नदियों से लिफ्टर लगाकर खनन पर पूर्णता प्रतिबंध है लेकिन रश्मीत मेहरोत्रा कंपनी केन के तटीय क्षेत्रों पर अवैध रूप से रेत का खनन कर रही है इतना ही नहीं यहां से रेत निकाल कर गाड़ी में ओवरलोड परिवहन किया जा रहा है यह सब होने के बावजूद जिला प्रशासन व खनिज विभाग चुप्पी साधे हुए हैं ओर नदी किनारे टीलो को फोड़कर बालू निकालने से भविष्य में बाढ़ का खतरा बढ़ जाएगा और किसानों की दिन पर दिन परेशानियां बढ़ती जाएंगे अभी तो रेत माफियाओं ने फसलें नष्ट की हुई है लेकिन आने वाले समय में बाढ़ का भी सामना करना पड़ जाएगा।
जबकि आश्चर्यजनक बात है की रेत का सर्वाधिक उत्पादन मध्यप्रदेश के खनिज मंत्री के विधानसभा में हो रहा है अब देखना यह है क्या पन्ना में रेत का अवैध उत्खनन रुक पाता है या नहीं हालांकि प्रदेश सरकार वर्तमान में चल रहे उपचुनाव में किसान हितेषी सरकार बताने में लगी हुई है लेकिन पन्ना जिले के राम नई में खुलेआम रेत माफिया किसानों को परेशान करने में लगे हुए हैं।