ठेगडी जी की पुण्य तिथि , समरसता दिवस के रूप में मनायी

आशीष उघड़े 

सारनी — भारतीय मजदूर संघ के संस्थापक दत्तोपंत ठेगडी की 16 वीं पुण्य तिथि को विधुत मंडल कर्मचारी यूनियन शाखा सारनी ने समरसता दिवस के रूप में मनाया गया । प्लांट के शोषित पीड़ित वंचित ठेका श्रमिको को मास्क एवं साहित्य वितरित कर सामाजिक दूरी बना कर करोना से बचाव की समझाइस दी गई । इसके पूर्व भगवान विश्वकर्मा का पूजन किया गया। यूनियन के क्षेत्रीय महामंत्री अंबादास सूने ने बताया कि भारतीय मजदूर संघ के संस्थापक स्वर्गीय दत्तोपंत ठेगडी ने अपना पूरा जीवन मजदूरो के उत्थान के लिए लगाया ।

भारतीय मजदूर संघ की स्थापना से लेकर आज तक के इतिहास पर प्रकाश डालते हुए आपने बताया कि भारतीय मजदूर संघ सन् 1996 से देश का प्रथम क्रमांक का घोषित श्रम संगठन है। संगठन सदैव राष्ट्र हित को सर्वोपरि मानता है। 1962 में भारत चीन युद्ध के समय कम्युनिस्ट विचार धारा के मजदूर संगठन चीन के पक्ष में थे। राष्ट्र हित को ध्यान में रखते हुए श्री ठेगडी जी ने प्रतिरक्षा उधोग में तेजी से संगठन खड़ा किया । संघ मे किसी भी प्रकार वर्ग भेद नही । इस अवसर पर विश्वनाथ बारस्कर ने ठेका श्रमिको संगठित होकर राष्ट्र हित में कार्य करने का आहवान किया । इस मौके पर एम पी शुक्ला , अंबादास सूने , जय साहू जितेन्द्र वर्मा , अमित सल्लाम , धीरज ढोमने एवं अनेक सदस्य उपस्थित थे। जितेन्द्र वर्मा ने सभी श्रमिकों मास्क वितरित किये इस मौके पर मातृ शक्ति सीता नायक , रईसा , लक्ष्मी , माया , सुनीता , शशिकला, रामकली , बुधराव , फ़ूलसिंह , विजय , प्रवीण , लोकेश तिवारी , दीपेन्द्र ओर अनेक ठेका श्रमिक उपस्थित थे ।