पुरानी पेंशन बहाली को लेकर विशाल प्रदर्शन”

Scn news india

प्रवीण मलैया
घोड़ाडोंगरी ll ट्राईबल वेलफेयर टीचर्स एसोसिएशन के प्रांतीय आह्वान पर विकासखंड मुख्यालय घोड़ाडोंगरी में TWTA ब्लॉक इकाई घोड़ाडोंगरी द्वारा सभी विभागों के एनपीएस धारक कर्मचारियों की उपस्थिति में वर्षों से लंबित पुरानी पेंशन तथा अनुकंपा नियुक्ति के नियमों के शिथिलीकरण को लेकर एक दिवसीय शांतिपूर्वक प्रदर्शन कार्यक्रम कर्मचारियों की उपस्थिति में संपन्न हुआ ।जंहा सभी विभागीय NPS धारक कर्मचारियों द्वारा नवीन पेंशन बंद कर शासन से पुरानी पेंशन चालू करने हेतु माननीय प्रधानमंत्री,माननीय मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार घोड़ाडोंगरी को ज्ञापन सौपा ।

जिले के सभी ब्लॉक अध्यक्षों तथा एनपीएस धारक कर्मचारी साथी उपस्थित रहे जंहा कार्यक्रम में शासन की अन्याय पूर्ण नीतियों को जमकर कोसा। एक तरफ शासन 5 वर्ष कार्य करने वाले जनप्रतिनिधियों को पेंशन दे रही है वही दूसरी तरफ एक शासकीय कर्मचारी जो 30 से 40 वर्ष शासन को सेवा देते हैं उन्हें सेवानिवृत्ति उपरांत एनपीएस के नाम पर 400 से 1000 रु तक की पेंशन ही दे रही है जो कि सरासर अन्याय पूर्ण है। इसके खिलाफ सभी कर्मचारियों ने एक स्वर में शासन की इन दोगली नीतियों को जमकर कोसा तथा शासन के खिलाफ नारेबाजी कर अपना गुस्सा जाहिर किया।

शासन को कर्मचारियों ने आगाह किया कि यदि शासन ने हमारी जायज मांगों को जल्द नहीं माना और एनपीएस के स्थान पर पुरानी पेंशन को बहाल नहीं किया तो आने वाले समय में सरकार को इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। कार्यक्रम में शिक्षा विभाग ,स्वास्थ्य विभाग, महिला बाल विकास विभाग एवं अन्य विभागों के संगठन पदाधिकारियों द्वारा बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया गया तथा कार्यक्रम को संबोधित किया।

कार्यक्रम में नीरज गलफट, कमलेश शर्मा, भीम छोटे, प्रवीण नरवरे ,रविसरनेकर,राजेंद्र कटारे, भीम लांजीवार, मुकेश सरयाम,संतोष जोठे, प्रवीण शर्मा, नितेश राठौर ,राजेंद्र मालवीय, शिरीष वर्मा, विवेक तिवारी, पीयूष वर्मा बृजेश दुबे ,ज्ञानेंद्र शुक्ला, संजय मालवीय ,विजय, आशीष भुसारी ,श्रीराम भुस्कुते,राजेश मन्नासे, से देवीदास पाटणकर, सीमा अस्वारे, लता सरयाम, संतोष जोठे, संगीता भूमरकर,रिनी राठौर, भागीरथी उइके,जानकी तुमराम, सीमा राठौर, धीरज यादव, सुनील मालवीय, निहार रंजन, हेमलता कटारे, अनीता सलाम, सावित्री प्रजापति, रुक्मणी इवने, संजय ठाकुर, पिंकी विश्वास, दुर्गेश सारस्वत, संजीव लोखंडे, व समस्त विभागीय कर्मचारी उपस्थित रहे।